VC Dr. Raj Bahadur का इस्तीफा: अब अमृतसर के Medical College के चिकित्सा अधीक्षक, प्रिंसिपल और वाइस प्रिंसिपल ने छोड़ा पद

Spread the News

चंडीगढ़: सेहत मंत्री चेतन सिंह जौड़ामाजरा के व्यवहार के बाद बाबा फरीद मेडिकल कॉलेज यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर डॉ. राज बहादुर ने इस्तीफा दे दिया है। जिसके बाद सियासत में अब नया भूचाल आ गया है और विरोधी लगातार सेहत मंत्री की बर्खास्ती की मांग कर रहे हैं। वहीं वाइस चांसलर डॉ. राज बहादुर द्वारा अपने पद से इस्तीफा दिया जाने के बाद अन्य मेडिकल अधिकारी भी अपना पद छोड़ रहे हैं। अब खबर है कि अमृतसर गुरु नानक देव मेडिकल कॉलेज सुपरीडैंट डॉ केडी सिंह, गुरु नानक अस्पताल मैडिकल कॉलेज के प्रिसीपंल डॉ राजीव देवगन और वाइस प्रिंसीपल डॉ जगदेव सिंह कुलार ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

बता दें कि बीते दिन सेहत मंत्री चेतन सिंह जौड़ामाजरा अस्पताल के निरीक्षण के दौरान वह एक वार्ड में अपनी टीम के साथ पहुंचे जहां पर एक बैड पर फटा-पुराना गद्दा बिछा था, जिसे देखने के बाद मंत्री द्वारा वाइस चांसलर से उस गद्दे पर लेटने को कहा।इसकी एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। वहीं मैडीकल कालेज अस्पताल के दौरे के दौरान कई बार मंत्री अस्पताल प्रबंधन की व्यवस्थाओं से नाराज दिखाई दिए। इस दौरान मंत्री ने काऊंटर के अंदर जाकर स्थिति का बारीकी से जायजा लिया गया। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार किसी भी प्रकार की अनियमितता को बर्दाश्त नहीं करेगी, लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए डाक्टर, स्टाफ, दवा आदि की पूरी-पूरी उपलब्धता करवाई जा रही है।