समराला कोर्ट परिसर में तैनात ASI Avtar Singh को विजीलेंस ब्यूरो ने रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार

Spread the News

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा अपनाई गई भ्रष्टाचार के खिलाफ ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति के तहत विजिलेंस ब्यूरो ने आज जिला लुधियाना के समराला कोर्ट परिसर में तैनात एएसआई अवतार सिंह को 7000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।

विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि उत्तर प्रदेश के जियानपुरा निवासी संदीप कुमार की शिकायत पर आरोपी एएसआई अवतार सिंह को गिरफ्तार किया गया है, जो अब मच्छीवाड़ा की नागरा कॉलोनी में रहता है। उन्होंने बताया कि शिकायतकर्ता ने विजीलेंस लुधियाना को शिकायत दर्ज कराई थी कि उनके खिलाफ दुर्घटना का मामला अदालत में लंबित है, जिससे पार्टियों के बीच समझौता प्रभावित हुआ है। उन्होंने आरोप लगाया कि अवतार सिंह अदालत में बयान दर्ज करने के लिए 20,000 रुपए की मांग कर रहे हैं, लेकिन सौदा 7000 रुपए में हुआ था।

उन्होंने बताया कि शिकायत में तथ्यों को जांचने के बाद विजीलेंस टीम ने एएसआई अवतार सिंह को 7000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा। इस मामले में लुधियाना में केस दर्ज किया गया है और आगे की जांच जारी है।