स्कूलों में किताबें न पहुंचने पर MLA परगट सिंह ने कसा तंग, कहा-यह असली ‘Delhi model of education’

Spread the News

जालंधर: पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड पाठ्यपुस्तकों की छपाई के लिए कागज की कमी के कारण मुश्किल में है। शिक्षा विभाग के सूत्रों के अनुसार, बोर्ड के विक्रेता ने पिछले बिलों की मंजूरी न होने का हवाला देते हुए सेवाएं जारी रखने से इनकार कर दिया।

वहीं, पंजाब के पूर्व शिक्षा एवं खेल मंत्री परगट सिंह ने इसे लेकर पंजाब सरकार पर तंज कसा है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, पंजाब के सरकारी स्कूलों में 4 महीने बीत जाने के बाद भी बच्चे किताबों का इंतजार कर रहे हैं। वास्तव में कागज की कमी के कारण पुस्तकों की छपाई अभी बाकी है। ये है असली ‘दिल्ली मॉडल ऑफ एजुकेशन’!!