Pre Matric Scholarship के लिए 31 अगस्त तक खुला पोर्टल, योग्य छात्र ना करें देरी, अभी कर लें Apply

Spread the News

मोहाली: शिक्षा मंत्री हरजोत सिंह बैंस के मार्गदर्शन में स्कूल शिक्षा विभाग की छात्रवृत्ति शाखा, पंजाब ने प्रदेश के सभी जिला शिक्षा अधिकारियों, स्कूल प्रमुखों और प्रधानाचार्यों को निर्देश दिए हैं कि शैक्षणिक सत्र 2022-23 के दौरान प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति जो अनुसूचित जाति के कंपोनेंट1 के तहत नौवीं और दसवीं कक्षा के विद्यार्थियों और कंपोनेंट-2 के तहत कक्षा एक से दसवीं तक के विद्यार्थियों को विभिन्न स्कीमों के तहत दिए जाने वाले वजीफे के लिए आवेदन करने के लिए ई-पंजाब पोर्टल 29 जुलाई से खोला गया है। इसमें 31 अगस्त तक सभी पात्र लाभार्थी छात्रों का आवश्यक पूर्ण विवरण एवं डाटा पोर्टल पर दर्ज किया जा सकता है। सभी स्कूल प्रमुखों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि पात्र लाभार्थी छात्र 31 अगस्त तक आवेदन करें। 8 सितंबर तक सक्षम प्राधिकारियों से अनुमोदन लेकर जिला स्तर पर छात्रों का डाटा व विवरण ऑनलाइन भेजना अनिवार्य होगा।

वहीं जिन छात्रों को 18 सितंबर तक औपचारिक रूप से खारिज कर दिया गया है और यदि किसी कारण से डेटा में सुधार की आवश्यकता है, तो उनका विवरण ऑनलाइन दर्ज किया जा सकता है। जिला स्तर पर मंजूरी के बाद छात्रों का डाटा व विवरण 10 सितंबर से पहले स्कूल शिक्षा विभाग के राज्य मुख्यालय पर भेजना अनिवार्य है। परमिंदर कौर सहायक निदेशक छात्रवृत्ति ने कहा कि विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार, चार्ट पोर्टल पर उपलब्ध विभागीय दिशानिर्देशों के अनुसार, अध्यापकों के लिए यह आवश्यक होगा कि वे अधिक से अधिक पात्र छात्रों का आवेदन करवाएं। एक छात्र एक सत्र के दौरान केवल एक वजीफा योजना का लाभ उठा सकता है, जिसके लिए छात्र का बैंक खाता आधार कार्ड के साथ लिंक होना चाहिए और बैंक खाता सक्रिय होना चाहिए। 5 से 15 वर्ष की आयु के बीच के छात्रों के आधार कार्ड को अपडेट करना आवश्यक होगा। छात्रों द्वारा आवेदन करने व छात्रों के डाटा की जांच करने के बाद क्रमश स्कूल स्तर एवं जिला स्तर के नोडल अधिकारी एवं मान्यता प्राप्त अधिकारी द्वारा पूर्ण सत्यापन के बाद मुख्यालय को भेजने के निर्देश भी जारी किए गए हैं।