ED ने संजय राउत का रिमांड बढ़ाने के बाद पत्नी Varsha Raut को भेजा समन, पूछा-खाते में कहां से आए 1 करोड़?

Spread the News

नई दिल्लीः मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने शिवसेना सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत को समन भेजा है। बता दें कि अदालत ने संजय राउत का ईडी रिमांड बढ़ाने के कुछ घंटे बाद ही उनकी पत्नी को तलब किया। ईडी ने बताया कि वर्षा राउत के खाते में हुए लेन-देन के सामने आने के बाद समन जारी किया गया है। संजय राउत की ईडी हिरासत पर अदालत में वीरवार की सुनवाई के दौरान ईडी ने कहा कि वर्षा राउत के खाते में असंबंधित व्यक्तियों से 1.08 करोड़ रुपए की राशि प्राप्त हुई थी।

राज्यसभा सांसद को उनके आवास पर घंटों छापेमारी के बाद रविवार देर रात गिरफ्तार कर लिया गया। ईडी ने पात्रा ‘चॉल’ के पुनर्विकास और शिवसेना सांसद की पत्नी और कथित सहयोगियों से संबंधित वित्तीय संपत्ति लेनदेन में वित्तीय अनियमितताओं का आरोप लगाया है।

गौरतलब है कि अप्रैल में, ईडी ने इस जांच के हिस्से के रूप में वर्षा राउत और उनके दो सहयोगियों से संबंधित 11.15 करोड़ से अधिक की संपत्ति को अस्थायी रूप से संलग्न किया था। कुर्क की गई संपत्तियां संजय राउत के सहयोगी और गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड के पूर्व निदेशक प्रवीण एम राउत के पास पालघर, सफले (पालघर में शहर) और पड़घा (ठाणे जिले में) के पास जमीन के रूप में हैं। ईडी ने कहा था कि इन संपत्तियों में मुंबई के उपनगर दादर में वर्षा राउत का एक फ्लैट और अलीबाग में किहिम बीच पर आठ भूखंड हैं जो संयुक्त रूप से वर्षा राउत और संजय राउत के करीबी सहयोगी सुजीत पाटकर की पत्नी स्वप्ना पाटकर के पास हैं।