दुर्घटना में पैर खोए पर हिम्मत नहीं, Final में पहुंचकर पैरा-टेबल-टेनिस Bhavina Patel ने पक्का किया पदक

Spread the News

बर्मिंघम: भारत की पैरा टेबल-टेनिस खिलाड़ी भाविना पटेल ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 में शुक्रवार को महिला एकल क्लास 3-5 के फाइनल में पहुंचकर भारत के लिए पदक पक्का कर लिया है। पहली बार राष्ट्रमंडल खेल में भाग ले रही भाविना ने सेमीफाइनल मैच में इंग्लैंड की स्यू बेली को तीन गेमों के मैच में 11-6, 11-6, 11-6 से हराया।

बता दें कि गुजरात के मेहसाना जिले में जन्मी 35 वर्षीय भाविना एक साल की उम्र में चलना सीख रही थी, तभी वो अचानक गिर गई। इस घटना के बाद उनके कमर से नीचे वाले हिस्से ने काम करना बंद कर दिया। हालांकि यह दुर्घटना उनकी महत्वकांक्षाओं व रास्ते का रोड़ा नहीं बनीं।

12 साल की उम्र में जब वो कंप्यूटर सीखने के लिए अहमदाबाद गईं तब उनकी मुलाकात टेबल टेनिस खेलने वाले विकलांग बच्चों से हुई। बच्चों को खेलता देख उन्हें काफी प्रेरणा मिली और उन्होंने टेबल टेनिस सीखना शुरू किया। आज वह देश के लिए कई बड़ी प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुकी हैं। बता दें कि इससे पह भाविना टोक्यो पैरालंपिक खेल 2020 में रजत पदक हासिल कर चुकी हैं।