स्वाद के साथ सेहत से भरपूर Hariyali Matki Khichdi, डायबिटीज मरीजों के लिए भी फायदेमंद

Spread the News

अगर आप भी डाइट फॉलो कर रहे हैं तो मटकी खिचड़ी आपके लिए बेस्ट ऑप्शन हो सकती है। लो कार्ब्स और लो शुगर वाली यह रेसिपी शुगर मरीजों के लिए भी बढ़िया है। वहीं, नियमित इसका सेवन वजन घटाने में भी काफी मददगार साबित हो सकता है। चलिए आपको बताते हैं इसकी आसान रेसिपी।

हरियाली मटकी खिचड़ी की सामग्री

-1 कप मटकी स्प्राउट्स
-1 प्याज
-1/2 कप प्यूरी किया हुआ पालक
-1 छोटा चम्मच गरम मसाला पाउडर
-1 छोटा चम्मच जीरा
-4 चम्मच घी
-5 कप पानी
-1 कप चावल
-1 कप पालक
-1/2 कप पुदीने के पत्ते
-1 छोटा चम्मच काली मिर्च
-1 छोटा चम्मच हींग
-8 लौंग लहसुन
-आवश्यकता अनुसार नमक

हरियाली मटकी खिचड़ी की विधिः

1. मटकी को 2-3 बार अच्छी तरह धो लें। फिर मटकी को रातभर भिगो दें और फिर सुखाकर साफ कर लें।
2. इसके बाद चावल को 2-3 बार धो लें और पकाने से पहले 20-30 मिनट के लिए भिगो दें।
3. अब एक कढ़ाई को मध्यम आंच पर गर्म करें। इसमें देसी घी डालकर पिघलने दीजिए। घी के पिघलने पर इसमें हींग के साथ जीरा का तड़का लगाएं।
4. कढ़ाई में कटा हुआ प्याज और लहसुन डालकर अच्छी तरह से चलाते हुए मध्यम आंच पर भूनें।
5. जब प्याज की कच्ची महक चली जाए तो इसमें भीगी हुई मटकी और चावल डालकर अच्छी तरह मिला लें। फिर कढ़ाई में पानी डाल कर एक बार फिर से चलाएं। खिचड़ी को मध्यम से तेज आंच पर ही पकाएं। अब खिचड़ी में काली मिर्च पाउडर और गरम मसाला डालकर मिला दीजिए। 2-3 मिनट तक पकाएं।
6. आखिर में खिचड़ी में कटी हुई पालक, हरी मिर्च और हरे प्याज के साथ पालक प्यूरी डालें। अच्छी तरह से मिक्स करें और 2-3 मिनट तक पकाएं।
7. इसमें कढ़ाई में कटे हुए पुदीने के पत्ते डालकर एक बार फिर मिलाएं।
8. आखिरी स्टेप के लिए तड़का पैन को मध्यम आंच पर रखें और उसमें घी पिघलाएं। इसमें कटा हुआ लहसुन डालें और कुछ सेकंड के लिए तड़का लगाएं और पकने वाली खिचड़ी के ऊपर डालें।
9. लीजए आपकी खिचड़ी बनकर तैयार है। इसे भुने हुए पापड़, आचार या राजस्थानी कढ़ी के साथ गर्मा-गर्म सर्व करें।