MP Raghav Chadha ने उठाया गुरुद्वारों को जोड़ने वाली रेल रूट पर ट्रेन शुरू करने का मुद्दा, केंद्र से पूछा यह सवाल

Spread the News

नई दिल्ली: सांसद के मानसून सेशन में पंजाब से सांसद राघव चड्ढा प्रदेश के कई अहम मुद्दे उठा रहे हैं। आज जहां राघव चड्ढा ने किसानों के लिए एमएसपी को कानूनी अधिकार बनाने के लिए बिल पेश करना है वहीं उन्होंने राघव चड्ढा ने सिख धर्म के तमाम पवित्र गुरुद्वारों को जोड़ने वाले रेल रूट पर ट्रेन शुरू करने का मुद्दा भी उठाया। राघव चड्ढा ने कहा कि भारत सरकार द्वारा 2021 में यह घोषणा की गई थी कि देशभर में गुरुद्वारा सर्केट ट्रेन चलाई जाएगी। जिसके माध्यम से 11 दिनों के भीतर कई बड़े गुरुद्वारों को जोड़ा जाएगा और संगत 11 दिनों में अमृतसर से शुरू होने वाली इस यात्रा को वहीं पर समाप्त करेगी। इसका स्वागत भी सिख संगत ने किया था। लेकिन दुख की बात है कि अभी तक इस प्रोजेक्ट पर कोई विकास नहीं हुआ है। मैं पूछना चाहूंगा कि इस प्रोजेक्ट पर क्या प्रोग्रेस है?

राघव चड्ढा ने आगे कहा कि केंद्र से सवाल किया की घोषणा के एक साल बाद भी सिखों के लिए विशेष ट्रेन ‘गुरुद्वारा सर्किट ट्रेन’ चलाने में सरकार नाकाम क्यों है? बता दें कि रेल मंत्री अश्विनी वैष्णरव ने पिछले साल सितंबर में सिख संगतों के लिए ‘गुरुद्वारा सर्किट ट्रेन’ शुरू करने की घोषणा की थी। इस योजना के तहत सिख धर्म के चार तख्त श्री अकाल तख्त साहिब, गुरुद्वारा श्री दमदमा साहिब, श्री हजूर साहिब और गुरुद्वारा श्री पटना साहिब को जोड़ा जाना था।

राघव चड्ढा ने केंद्र सरकार से इस योजना पर तुरंत काम शुरू करने की मांग की और कहा कि करीब एक साल बीत चुका है, लेकिन ट्रेन शुरू नहीं हुई, जोकि भाजपा सरकार की सिख विरोधी और पंजाब विरोधी मानसिकता को दर्शाता है ।