इस तरह करें curry leaves का इस्तेमाल, weight loss के साथ दूर होंगी ये समस्याएं

Spread the News

मोटापे की समस्या से आज कल सभी लोग पेरशान है। इससे छुटकारा पाने के लिए लोग बहुत कुछ करते है लेकिन उन्हें उनका मनचाहा परिणाम पाता। इसे कम करने के लिए हम सबसे पहले एक्सरसाइज और डाइट का सहारा लेते है। लेकिन क्या आप जानते है की यह चीज़े आगे जा कर हमारे और हमारे शरीर के लिए बहुत ही हानिकारक साबित हो सकती है। करी पत्ते के बारे में तो हम सब जानते ही है। इसका इस्तेमाल हम खाना बनाने के लिए करते है। क्या आप जानते है की इसका इस्तेमाल हम अपने वेट लूस के लिए भी कर सकते है। तो आइए किस तरह करना चाहिए इसका इस्तेमाल :

खाली पेट करी पत्ते का सेवन करने से सेहत को मिलते हैं ये फायदे-
आंखों के लिए फायदेमंद-
खाली पेट करी पत्ते का सेवन करने से ना सिर्फ आंखों की रोशनी में सुधार आ सकता है बल्कि इसके अंदर विटामिन ए पाया जाता है जो आंखों को तंदुरुस्त बनाने के लिए बेहद उपयोगी साबित हो सकता है।

मॉर्निंग सिकनेस होगी दूर-
मॉर्निंग सिकनेस दूर करने के लिए खाली पेट करी पत्ते का सेवन अच्छा होता है। करी पत्ते के उपयोग से न केवल उल्टी की समस्या दूर हो सकती है बल्कि मतली, जी मिचलाना आदि समस्याओं से भी राहत पाया जा सकता है। मॉर्निंग सिकनेस दूर करने के लिए आप नींबू के रस में चीनी और करी पत्ते के रस को मिलाकर भी पी सकते हैं।

लिवर की समस्या हो सकती है दूर-
लिवर की समस्या दूर करने में भी खाली पेट करी पत्ते का सेवन बेहद उपयोगी है। यह ना केवल सिरोसिस के जोखिम को कम करने में मदद करता है बल्कि लिवर की कार्य क्षमता में भी सुधार करता है।

वेट लॉस-
बढ़ता वजन आज हर दूसरे व्यक्ति के लिए एक बड़ी समस्या बना हुआ है। आप इस समस्या से छुटकारा बस कुछ करी पत्ते खाली पेट चबाकर पा सकते हैं। अगर आप खाली पेट करी पत्ते का सेवन करते हैं तो आप अपना वजन कम कर सकते हैं। खाली पेट करी पत्ते चबाने से न सिर्फ शरीर में ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है बल्कि कोलेस्ट्रोल भी कम होता है। इसके लिए आप सुबह उठते ही तुलसी के पत्तों के साथ करी पत्ते का सेवन करें। ये आपके वेट लॉस में मदद कर सकता है।

पाचन तंत्र होगा मजबूत-
करी पत्ते का सेवन करने से न केवल पेट दर्द की समस्या दूर हो सकती है बल्कि जो लोग कब्ज, एसिडिटी, अपच से परेशान हैं वह खाली पेट करी पत्ते का सेवन करें। आप इसका सेवन दही या छाछ के साथ भी कर सकते हैं। ऐसा करने से पाचन तंत्र मजबूत बना रहता है।