Commonwealth Games 2022 : Para Table Tennis में Bhavina Patel ने गोल्ड और Sonal Patel ने ब्रॉन्ज मेडल जीता

Spread the News

बर्मिंघमः पैरा-टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविना पटेल ने राष्ट्रमंडल खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारत की पहली महिला खिलाड़ी बन गई है। उन्होंने नेशनल एग्जीबिशन सेंटर में क्लास 3-5 के फाइनल में नाइजीरिया की इफेचुकुडे क्रिस्टियाना इकपोयी को हराकर इतिहास रचा। शनिवार की देर रात खेले गए फाइनल में, 35 वर्षीय भावना ने नाइजीरियाई को 12-10, 11-2, 11-9 से हराया।

भाविना के अलावा, भारत की सोनल पटेल ने पैरा टेबल टेनिस में ब्रॉन्ज मेडल जीता। उन्होंने क्लास 3-5 से मुकाबला जीतकर ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया। उन्होंने प्लेऑफ में इंग्लैंड की बेली को 11-5, 11-2, 11-3 से हराया। पिछले एक साल में पैरा टेबल टेनिस में भाविना पटेल की यह दूसरी बड़ी उपलब्धि है। टोक्यो पैरालिंपिक में भाविना ने रजत पदक जीतकर इतिहास रचा था।

टोक्यो पैरालंपिक में रजत पदक जीतने के साथ ही भाविना का जीवन बदल गया। बर्मिंघम 2022 कॉमनवेल्थ गेम्स में भाविना ने क्लास 3-5 में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में अपनी पहचान बनाई और गोल्ड मेडल अपने नाम किया। यह उनका पहला कॉमनवेल्थ पदक है। भाविना ने अपनी जीत पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कहा, मैं बहुत खुश हूं, मेरे पास शब्द नहीं है, मैं एक फाइटर हूं। जो मैं करना चाहती हूं, वह करके रहती हूं। मेरी जीत का पूरा श्रेय मेरे परिवार, मेरे कोच, मेरे फेडरेशन, भारतीय पैरालंपिक समिति, भारतीय खेल प्राधिकरण, और मेरे सभी दोस्त को जाता है, जो मेरे लिए प्रार्थना करते हैं। यह मेडल उनके लिए है।

उन्होंने कहा, कि मेरे लिए टेबल टेनिस का मतलब है जिंदगी। टेबल टेनिस के बिना मैं नहीं रह सकती। वहीं, सोनल पटेल ने ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाकर अपनी खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि मैं काफी अच्छा और एक अलग खुशी महसूस कर रही हूं, मैं बहुत खुश हूं। बमिर्ंघम 2022 कॉमनवेल्थ गेम्स बहुत अच्छा रहा। भाविना और सोनल दोनों के लिए अगली चुनौती नवंबर में स्पेन में आयोजित विश्व चैंपियनशिप होगी। वे पेरिस 2024 पैरालंपिक खेलों में अपने दावों को मजबूत करने के लिए प्रदर्शन करेंगी।