2 साल पहले दुष्कर्म: आरोपियों को पकड़ने रोज घटनास्थल जाती थी पीड़िता, दोबारा हो गई शिकार

Spread the News

लुधियाना: साल 2020 में महिला के साथ कार में सामूहिक दुष्कर्म हुआ तो पुलिस ने उसकी एक न सुनी। पीड़िता खुद ही आरोपियों को ढूंढने निकली तो महिला दूसरी बार फिर सामूहिक दुष्कर्म का शिकार हो गई। उसने आरोपियों का नाम और पता ढूंढा तथा प्पुलिस को शिकायत दी। अब थाना हैबोवाल पुलिस ने पीड़िता की शिकायत के आधार पर गुरदासपुर के बरजिंदर सिंह, गुरप्रीत गोपी, सुखदेव सिंह हैप्पी एवं परमजीत सिंह पम्मा के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपियों की तालाश शुरू कर दी है। पीड़िता ने बताया कि साल 2020 में वह निजी काम के संबंध में जालंधर बाईपास गई थी। वहां पर कार सवार 4 व्यक्ति उसे कार में जबरदस्ती बैठाकर चंडीगढ़ ले गए और कार में दुष्कर्म किया।

उसके बाद पीड़िता को खरड़ के पास कार में से उतार कर फरार हो गए। पीड़िता ने इस बारे में थाना हैबोवाल, एस.एस.पी. गुरदासपुर एवं एस.एस.पी. चंडीगढ़ को शिकायत डाक के माध्यम से भेजी थी। उन शिकायतों को भेजने के बाद भी जब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तब पीड़िता ने 12 जुलाई 2022 को जालंधर बाईपास के नजदीक उन व्यक्तियों की तालाश में जाकर खड़ी हो गई। वहां पर वही व्यक्ति कार लेकर आए और शिकायतकर्त्ता को जबरदस्ती कार में बैठाकर चंडीगढ़ की तरफ ले गए और उसका शारीरिक शोषण किया। इसके बाद आरोपी खरड़ के पास उसे छोड़कर फरार हो गए।