नहीं पता कि महाराष्ट्र का असली मुख्यमंत्री कौन है: Aaditya Thackeray

Spread the News

मुंबई : शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने महाराष्ट्र की एकनाथ शिंदे-देवेंद्र फडणवीस सरकार पर सोमवार को निशाना साधते हुए कहा कि यह समझना मुश्किल हो गया है कि राज्य का असली मुख्यमंत्री कौन है। ठाकरे ने कहा, ‘‘एक सवाल पूछा जाता है कि राज्य में निर्वाचित सरकार है या नहीं। लेकिन दो लोगों की जंबो कैबिनेट में यह नहीं समझा जा सकता कि असली मुख्यमंत्री कौन है।’’ उन्होंने कहा कि राज्य में एक ‘अस्थायी’ मुख्यमंत्री है, क्योंकि शिंदे सरकार का जल्द ही गिरना तय है।

अपने निजी आवास ‘मातोश्री’ में पार्टी कार्यकर्ताओं से आदित्य ने कहा कि उच्चतम न्यायालय में बागी विधायकों के खिलाफ शिवसेना की लड़ाई के मामले में आने वाले फैसले का असर न केवल पार्टी, बल्कि पूरे देश पर पड़ेगा। अदित्य ने कहा, ‘‘हमारे पास एक अस्थायी मुख्यमंत्री हैं, अस्थायी इसलिए कि सरकार गिर जाएगी। शिंदे दिल्ली, पर्यटन स्थलों से कभी-कभी महाराष्ट्र आते हैं और तस्वीर खिंचाने के बाद राजधानी वापस चले जाते हैं।

ठाकरे ने कहा कि राज्य के विभिन्न हिस्सों में भारी बाढ़ के बावजूद कोई जिम्मेदार सरकार नहीं है। शिंदे और फडणवीस के 30 जून को क्रमश: मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के एक महीने बाद महाराष्ट्र कैबिनेट का विस्तार मंगलवार को होने वाला है। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली महा विकास आघाड़ी सरकार 29 जून को शिंदे और शिवसेना के 39 विधायकों की बगावत के बाद गिर गई थी।