यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की का फैसला, क्राइमिया के काला सागर प्रायद्वीप की मुक्ति से ही समाप्त होगा युद्ध

Spread the News

कीवः रूस के साथ जारी युद्ध तब तक समाप्त नहीं होगा जब तक कि क्राइमिया का काला सागर प्रायद्वीप, जिस पर मास्को ने 2014 में कब्जा कर लिया गया था, मुक्त नहीं हो जाता। यह बयान यूक्रेन के राष्ट्रपति ब्लादिमीर जेलेंस्की ने दिया है। समाचार एजेंसी ने मंगलवार को अपने रात के वीडियो संबोधन में राष्ट्रपति के हवाले से कहा, कि ‘क्राइमिया यूक्रेन का हिस्सा है और हम इसे कभी नहीं छोड़ेंगे। जब तक क्राइमिया पर कब्जा है, काला सागर क्षेत्र सुरक्षित नहीं हो सकता।’’

‘‘भूमध्य सागर के तट पर कई देशों में तब तक कोई स्थिर और स्थायी शांति नहीं होगी जब तक रूस हमारे प्रायद्वीप को अपने सैन्य अड्डे के रूप में उपयोग करने में सक्षम है।’’ जेलेंस्की ने कहा, ‘‘यूक्रेन और पूरे स्वतंत्र यूरोप के खिलाफ यह रूसी युद्ध क्रीमिया से शुरू हुआ और क्रीमिया के साथ ही समाप्त होना चाहिए, इसकी मुक्ति के साथ।’’

बता दे, मंगलवार को क्राइमिया के पश्चिम में स्थित नोवोफेडोरिव्का के पास साकी सैन्य अड्डे पर सिलसिलेवार विस्फोट हुए, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई। हालांकि जेलेंस्की ने अपने संबोधन में विस्फोटों का जिक्र नहीं किया। जबकि रूस ने विस्फोटों को खास तवज्जो नहीं दिया। यूक्रेन के एक शीर्ष सलाहकार ने इस बात से इनकार किया कि कीव इसके लिए जिम्मेदार है। क्राइमिया आधिकारिक तौर पर यूक्रेन का हिस्सा है, लेकिन 2014 में एक जनमत संग्रह के बाद रूस द्वारा कब्जा कर लिया गया, जिसे अंतर्राष्ट्रीय समुदाय नाजायज मानता है।