Sukhbir Badal ने PM Modi से की अपील, आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर जेंलों में बंद सिख बंदियों को किया जाए रिहा

Spread the News

चंडीगढ़ : भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने एक पत्र लिखे हैं। उन्होंने पत्र के माध्यम से प्रधानमंत्री मोदी से व्यक्तिगत तौर पर हस्तक्षेप कर आजादी की 75वीं वर्षगांठ के मौके पर देश के विभिन्न जेंलों में बंद सभी सिख बंदियों की रिहाई सुनिश्चित करने की अपील की है। प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में बादल ने कहा कि उन्होंने 2019 में श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के अवसर पर सिख बंदियों की रिहाई के लिए प्रतिबद्धता जताई थी, जब उन्होंने उनकी उम्रकैद की सजा कम करने के साथ-साथ भाई बलवंत सिंह राजोआना की मौत की सजा को उम्रकैद में बदल दिया था।

सुखबीर बादल ने प्रधानमंत्री मोदी को बताया कि सिख बंदियों ने कोर्ट द्वारा निर्धारित सजा की अवधि को पूरा कर लिया है। उन्होंने कहा कि बंदियों को लगातार हिरासत में रखे जाने से न केवल देशभक्त अल्पसंख्यक सिख समुदाय में भावनात्मक अंसतोष की भावना फैल रही है, बल्कि यह गलत तत्वों को कलह फैलाने और राष्ट्रीय एकता की भावना को कमजोर करने का भी अवसर दे रही है। उन्होने कहा कि बंदियों की तत्काल रिहाई की निष्पक्षता और औचित्य को अकाली दल द्वारा बार-बार उजागर किया गया है।