मान सरकार ने पेश किया पांच महीने का रिपोर्ट कार्ड, 12339 करोड़ रुपए का कर्ज किया वापिस

Spread the News

चंडीगढ़ : पंजाब की मान सरकार ने अपने पांच महीने का रिपोर्ट कार्ड पेश किया है। चंडीगढ़ पंजाब भवन में कैबिनेट मंत्री हरपाल सिंह चीमा, मंत्री कुलदीप धालीवाल, मंत्री हरभजन ईटीओ, मंत्री चेतन सिंह जोडामाजरा और मंत्री हरजोत बैंस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने कहा कि, आज हमारी सरकार को बने 5 महीने हो चुके है। उसके बाद से पंजाबियों के हक में बड़े फैसले मुख्यमंत्री एवं उनकी सरकार ले रही है। उन्होंने बताया कि सरकार बनने के बाद पंजाब का फाइनांस प्रिंसिपल कर्ज 6349 करोड़ हमने वापिस किया। जबकि 6000 करोड़ का ब्याज दिया। इस तरह कुल 12339 करोड़ रुपए 5 महीने में वापिस कर चुके है। 10729 करोड़ रुपए का कर्ज लिया गया।

जीएसटी कोलेक्शन में 27 फीसदी की ग्रोथ का लक्ष्य था लेकिन 24.15 फीसदी का इजाफा 5 महीनों में हुआ। एक्ससाइज में 43.47 फीसदी का इजाफा हो चुका है। 3108 करोड़ का मालिया वसूल किया गया है और 941 करोड़ रुपए की ग्रोथ हुई है। सेंटर स्पोंसर्ड स्कीम से हमे 703 करोड़ रुपए आए है।

कॉर्पोरेशन विभाग :- नाबार्ड लोन के लिए 525 करोड़ दे चुके है, उनके कर्मचारी 188 करोड़ की राहत दी है।
गन्ना किसान :- गन्ना बकाया 200 करोड़ किसानों को दिया।
फ़ूड सप्लाई :- पनसप को घाटे से निकालने के 100 करोड़ दे चुके है।
एग्रीकल्चर फार्मर वेलफेयर के लिए 66.56 करोड़ दे चुके है।
धान की सीधी बिजाई के लिये 450 करोड़ जारी कर चुके है।
पावर सब्सिडी बजट 15845 करोड़ बजट था, 5341 करोड़ दे चुके है।
हायर एजुकेशन 25.75 फीसदी बजट एस्टिमेट का जारी किया जा चुका है।
इसके इलावा सारी स्कीमों के लिए बजट एस्टिमेट का 35.06 फीसदी पैसे रिलीज कर चुके है।