कश्मीरी पंडित की हत्या करने वाले आतंकवादी का घर कुर्क करने की प्रक्रिया शुरू, पिता एवं 3 भाई गिरफ्तार

Spread the News

श्रीनगर: शोपियां में एक कश्मीरी पंडित की हत्या करने वाले आतंकवादी आदिल वानी के मकान को कुर्क करने की प्रक्रिया जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने बुधवार को शुरू कर दी और उसे शरण देने के आरोप में उसके पिता सहित तीन भाइयों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने बताया कि आदिल वानी ने मंगलवार को शोपियां गांव के एक बाग में सुनील कुमार भट की हत्या कर दी थी और बाद में कुटपोरा में अपने घर में छिप गया था।

उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी की और तलाशी अभियान चलाया, लेकिन वानी पुलिस दल पर ग्रेनेड फेंकने के बाद अंधेरे में फरार हो गया। वह प्रतिबंधित आतंकवादी समूह अल-बद्र का आतंकवादी है। पुलिस ने तलाशी अभियान के दौरान वानी के घर से हथियार तथा गोला बारुद बरामद किया, जिसके बाद प्राधिकारियों ने मकान को कुर्क करने की प्रक्रिया शुरू की और उसके पिता तथा तीन भाइयों को गिरफ्तार कर लिया।

चश्मदीदों और सुनील कुमार के रिश्तेदार ने हमलावर के तौर पर आदिल वानी की पहचान की थी। वानी ने मंगलवार को सुनील कुमार और उसके भाई पर सेब के बाग में काम करने के दौरान अंधाधुंध गोलियां चलाई थीं।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इस साल की शुरुआत में ऐलान किया था कि वह गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून (यूएलपी) की धारा 2 (जी) और 25 के अनुसार आतंकवाद के उद्देश्य से इस्तेमाल की जाने वाली कुछ अचल संपत्तियों को कुर्क करने की प्रक्रिया शुरू करेगी। उसने लोगों से आतंकवादियों या आतंकवादियों के सहयोगियों को पनाह न देने की अपील भी की थी।