श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी का प्रकाश पर्व: 9 देशों से आए 115 किस्म के फूलों से महका सचखंड श्री हरमंदिर साहिब

Spread the News

अमृतसर: श्री गुरु ग्रंथ साहिब का पहला प्रकाश पर्व पर आज रविवार को समूह संगतों की ओर से मनाया जा रहा है। इस अवसर पर सचखंड श्री हरिमंदिर साहिब 115 किस्म के फूलों से महक उठा है। गुरु घर के सेवक दिल्ली के व्यवसायी केके शर्मा ने 1 करोड़ रुपये की लागत से पिछले 5 वर्षों से सचखंड श्री हरिमंदिर साहिब में फूलों की सजावट की सेवा करते आ रहे हैं। इस बार भी यह सेवा दिल्ली की शर्मा एमिल फार्मेसी के मालिक द्वारा श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के पहले प्रकाश पर्व के उपलक्षय में फूलों की सजावट की सेवा निभाई गई। एसी वाले चार ट्रक में देश-विदेश से फूल मंगवाए गए हैं। फूल 115 किस्म के हैं, जबकि पिछली बार 85 तरह के फूलों से सजावट की गई थी।

भारत के पारंपरिक फूलों जैसे ऑर्किड, रोज़, डेज़ी, ब्रेशिया, रेड बेरी, डिस्बड, किंग पेटिया, पिंक कुशन, स्नोबॉल, ट्यूलिप के अलावा हॉलैंड, थाईलैंड, कोलंबिया, चीन, ऑस्ट्रेलिया, यूरोप, इटली और पूर्वी एशिया से सजावट के लिए प्रकाश पर्व के अवसर पर श्री दरबार साहिब समूह को इटालियन रस्क आदि रंग-बिरंगे सुगंधित फूलों से सजाया गया। करोड़ों की लागत से सचखंड श्री हरिमंदर साहिब के हर कौने को फूलों से सजाया गया। सजावट में जहां फूलों से गोले, झालरें, झूमर, जंजीरें, खंडा आदि तैयार किए जाएंगे, वहीं खंडा पर विशेष रूप में झालरें भी तैयार की गई। फूलों में देश-विदेश से सैकड़ों प्रकार के फूल मंगवाए गए हैं, फूलों में सबसे लोकप्रिय गेंदे हैं। शिरोमणि गुरु द्वारा प्रबंधक कमेटी और मैनेजर श्री दरबार साहिब की तरफ से इस सेवा को निभाने वाले के के शर्मा और उनके परिवार को सम्मानित किया जाएगा।