Hartalika Teej: आज रखा जा रहा है हरतालिका तीज का व्रत, इन उपाय से पाए माता पार्वती और भगवान शिव जी का आशीर्वाद

Spread the News

हर साल शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरतालिका तीज मनाई जाती है। सावन महीने में ही हरियाली तीज भी मनाई जाती है। लेकिन क्या आप जानते है की हरतालिका तीज का व्रत रखना सबसे कठिन व्रत माना जाता है। आज 30 अगस्त 2022 को हरतालिका तीज का व्रत रखा जा रहा है। आज के दिन सभी महिलाएं व्रत रखती है और अपने पति की लम्बी उम्र के लिए माता पार्वती और भगवान शिव जी की पूजा करते है। आज के दिन सुहागिन महिलाएं न सिर्फ निर्जला व्रत रखती हैं बल्कि व्रत के दौरान कई कठिन नियमों का पालन भी करती हैं। और आज के दिन कुछ उपाय के साथ भी अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद प्राप्त कर सकती है। आइए जानते है उन उपाय के बारे में:

हरतालिका तीज से जुड़े आसान उपाय
1. जो युवतियों मनचाहे वर की कामना से यह व्रत हैं, उनको आज के दिन काली मिट्टी या रामराज मिट्टी से भगवान शिव की मूर्ति या शिवलिंग बनाना चाहिए. फिर भोलेनाथ को बेलपत्र, अक्षत्, चंदन, फूल आदि अर्पित करके पूजा करनी चाहिए. साथ ही माता पार्वती और गणेश जी का भी पूजन करें और नीचे दिए गए मंत्र का जाप करना चाहिए.

हे गौरी शंकर अर्धांगिनी यथा त्वं शंकर प्रिया।
तथा माम कुरु कल्याणी कांतकांता सुदुर्लाभाम्।।

2. वैवाहिक जीवन में खुशहाली के लिए आज भगवान शिव और माता पार्वती की पूजा करें. साथ ही माता पार्वती को लाल रंग की चुनरी चढ़ाएं. पूजा के समय ओम गौरी शंकराय नमः मंत्र का जाप करें. यह मंत्र भगवान शिव और माता पार्वती को संयुक्त रूप से पूजा के लिए अच्छा है.

3. यदि दांपत्य जीवन में खटास है. पति और पत्नी के बीच समस्याएं हैं तो आज पूजा के समय आपको देहि सौभाग्यं आरोग्यं देहि मे परमं सुखम्। पुत्र-पौत्रादि समृद्धि देहि में परमेश्वरी।। मंत्र का उपयोग करना चाहिए. इस मंत्र के प्रभाव से आपके सभी मनोकामनाओं की पूर्ति हो सकती है.

4. यदि आप अपने जीवनसाथी के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित हैं तो आपको पूजा के समय महामृत्युंज्य मंत्र का जाप करना चाहिए या फिर उनके दीर्घायु होने के लिए मंत्र का जाप करना चाहिए. भगवान शिव उत्तम स्वास्थ्य और आयु प्रदान करेंगे.

5. आज के दिन जब भी पूजा कर लें तो उसके बाद अपनी सासु मां के पैर छूकर आशीर्वाद लें और उनको लाल रंग की साड़ी, श्रृंगार सामग्री और हरतालिका तीज पूजा का प्रसाद भेंट करें. ऐसा करने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है.