मूसेवाला मर्डर केस में विदेशों में भी कार्रवाई तेज: अजरबैजान से अरेस्ट किया गया गैंगस्टर लॉरेंस का भांजा सचिन थापन

Spread the News

चंडीगढ़: पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला कत्ल मामले में आए दिन कई बड़े खुलासे हो रहे हैं। पंजाब पुलिस भी लगातार एक्शन मोड में है। वहीं अब इस संबंध में विदेशों में भी एक्शन शुरू हो गया है। जानकारी है कि अब गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के भांजे सचिन बिश्नोई को अजरबैजान से पकड़ कर हिरासत में लिया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो जांच एजेंसियों को इस बात की आशंका है कि मूसेवाला की हत्या को अंजाम देने की जानकारी सचिन बिश्नोई को भी पहले से ही थी।

सचिन ने पासपोर्ट पर दी फर्जी जानकारी

मिली जानकारी के मुताबिक सचिन के पास जो पासपोर्ट बरामद हुआ है उसमें उसका नाम तिलक राज टूटेजा के नाम का पासपोर्ट बरामद किया गया है। वहीं उसके पिता का असली नाम शिव दत्त है लेकिन फर्जी पासपोर्ट में उसके पिता का नाम भीम सेन लिखा हुआ है। पासपोर्ट में उसने अपना पता भी फर्जी डाला हुआ है। उसका असली पता वीपीओ दतारियां वाली , जिला फजिल्का है. जबकि उसने फर्जी पासपोर्ट में पता मकान नंबर 330, ब्लॉक एफ-3, संगम विहार, दिल्ली दर्ज है।

फर्जी पासपोर्ट बनाकर पहले ही छोड़ गए थे भारत

बता दें कि सचिन थापन और लॉरेंस का भाई अनमोल मूसेवाला की मौत के पहले ही फर्जी पासपोर्ट पर भारत छोड़ गए थे। जिसके बाद पंजाब पुलिस ने केंद्रीय विदेश मंत्रालय के साथ मिलकर सचिन को भारत लाने की कार्रवाई शुरू कर दी। वहीं विदेश मंत्रालय ने पंजाब पुलिस से इनकी आपराधिक हिस्ट्री भी मांगी है।

पहले नेपाल भागे थे अनमोल और सचिन

इतना नहीं मूसेवाला के कत्ल को अंजाम देने से पहले ही दोनों (अनमोल और सचिन) नेपाल भाग गए थे। इससे पहले उन्होंने फर्जी पासपोर्ट बनाया जिसके बाद वह अजरबैजान चले गए। हालांकि वहां जाने के बाद अनमोल तो कनाडा चला गया लेकिन सचिन को फेक पासपोर्ट केस में पकड़ लिया गया। वहीं जब इस बात का पता अनमोल को चला तो वह कनाडा से कीनिया भाग निकला।

इस केस में अभी तक हुई जांच में पता चला है कि मूसेवाला के कत्ल की साजिश तिहाड़ जेल में बैठकर लॉरेंस ने रची थी। जिसके बाद अनमोल और सचिन ने कनाडा में बैठे गैंगस्टर गोल्डी बराड़ के साथ मिलकर पूरी साजिश को अंजाम दिया।