“बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देश डिजिटल व्यापार के क्षेत्र में चीन के साथ सहयोग मजबूत करने के लिए तत्पर

Spread the News

2022 चीनी अंतरराष्ट्रीय सेवा व्यापार 31 अगस्त से 5 सितंबर तक पेइचिंग में आयोजित किया गया। इस सेवा व्यापार मेले में भाग लेने वाले कुछ देश और उद्यम “बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देशों के हैं। पिछले दस वर्षों में, चीन का सेवा व्यापार 6.1 प्रतिशत की औसत वार्षिक दर से बढ़ा है, जो वैश्विक औसत विकास दर से दोगुना है। कुल सेवा आयात और निर्यात की मात्रा लगातार 8 वर्षों से दुनिया में दूसरे स्थान पर है, जिसमें से “बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देशों के साथ द्विपक्षीय व्यापार की मात्रा में 33 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। जो कि मात्रा और गुणवत्ता में उल्लेखनीय उन्नति दिखा रही है। मौजूदा सेवा व्यापार में भाग लेने वाले “बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देशों के लोगों का कहना है कि डिजिटलीकरण वैश्विक सेवा व्यापार के विकास को अवसर प्रदान करता है, और वे भविष्य में और अधिक क्षेत्रों में चीन के साथ सहयोग करने के लिए तत्पर हैं।

चीन-श्रीलंका आर्थिक और व्यापार सहयोग संघ के अध्यक्ष उदमुल्लागे चिरंजया ने कहा कि “बेल्ट एंड रोड” के कारण श्रीलंका के कई उत्पाद चीन में प्रवेश करते हैं। चीन का बाज़ार बहुत बड़ा है, वर्तमान में ई-कॉमर्स लाइव प्रसारण जैसा प्लेटफॉर्म आसानी से बाजार खोल सकता है। यह न केवल चीन, बल्कि “बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देशों के साथ भी व्यापार कर सकता है।

बताया जाता है कि इस साल अप्रैल तक, चीन ने 149 देशों और 32 अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ 200 से अधिक “बेल्ट एंड रोड” सहयोग दस्तावेजों पर हस्ताक्षर किए हैं। “बेल्ट एंड रोड” पहल  अवधारणा से अभ्यास में बदल गया है, जो कि अवसर पैदा कर रहा है और दुनिया को लाभान्वित कर रहा है। साल 2013 से साल 2021 तक, चीन और संबंधित देशों के बीच वार्षिक व्यापार की मात्रा 10.4 खरब अमेरिकी डॉलर से 73 प्रतिशत बढ़कर 18 खरब अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गई। 

चीनी वाणिज्य मंत्रालय के अधिकारी के मुताबिक, 2021 में चीन और “बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देशों के बीच सेवाओं का कुल आयात और निर्यात मूल्य 1.1 खरब अमेरिकी डॉलर से अधिक हो गया, जिसमें साल 2020 की तुलना में 33.4 प्रतिशत का इजाफा हुआ, जो चीन और “बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देशों के बीच सेवा व्यापार सहयोग की मजबूत जीवन शक्ति दर्शाता है, इसके साथ ही यह “बेल्ट एंड रोड” के संयुक्त परामर्श, सह-निर्माण और साझाकरण के सिद्धांत का प्रतिबिंबित है, इसने “बेल्ट एंड रोड” के भविष्य के सहयोग के लिए और व्यापक स्थान खोला है। 

चीन स्थित नेपाली राजदूत विष्णु पुकार श्रेष्ठ ने कहा कि चीन अपने सुधार और खुलेपन में लगातार और अधिक उपाय कर रहा है। नेपाल को चीनी बाजार के निरंतर खुलेपन के लिए बेहतर अनुकूलन करने की आवश्यकता है। डिजिटल व्यापार के उपयोग का ज्यादा प्रचार करना और व्यापक संपर्क करना चाहिए, विशेष रूप से बीमा, बैंकिंग, पर्यटन आदि सेवाओं के क्षेत्रों में। उन्होंने कहा कि आज, “चीनी सेवा” अपने सुपर बाज़ार और अग्रणी डिजिटल परिवर्तन के साथ दुनिया के लिए विकास के अधिक अवसर प्रदान कर रहा है। “बेल्ट एंड रोड” से जुड़े देश भी डिजिटल व्यापार के क्षेत्र में चीन के साथ सहयोग को मजबूत करने की उम्मीद कर रहे हैं।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)