Kurukshetra में IED प्लांट का मास्टर माइंड नछत्तर पंजाब में गिरफ्तार

Spread the News

पंजाब पुलिस ने हरियाणा के कुरुक्षेत्र के शाहबाद में आई.ई.डी. प्लांट करने के मास्टरमाइंड नछत्तर सिंह और उसके 2 साथियों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से 1.5 किलो आर.डी.एक्स. के साथ लैस एक आई.ई.डी. समेत डैटोनेटर, .30 बोर और .315 बोर समेत 2 पिस्तौलें समेत 8 जिंदा कारतूस और बिना रजिस्ट्रेशन नंबर वाला एक स्प्लैंडर मोटरसाइकिल बरामद किया गया है। डी.जी.पी. गौरव यादव ने बताया कि आई.एस.आई. की हिमायत प्राप्त आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश किया गया है। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान इस मॉड्यूल के 25 और साथियों की पहचान की गई है।

डी.जी.पी. ने बताया कि गिरफ्तार किए गए व्यक्तियों में मुख्य दोषी भी शामिल है, जिसकी पहचान तरनतारन के गांव भट्ठल सहजा सिंह निवासी नछत्तर सिंह उर्फ मोती के तौर पर हुई है। इस आतंकवादी मॉड्यूल का हरियाणा पुलिस ने पर्दाफाश किया था। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किए गए 2 और मुलजिमों की पहचान सुखदेव सिंह उर्फ शेरा निवासी गांव गंडीविंड और हरप्रीत सिंह उर्फ हैपी उर्फ बिल्ला निवासी गांव नौशहरा पन्नूआ के तौर पर हुई है। डी.जी.पी. ने कहा कि तीनों ही मुलजिम लखबीर लंडा के सीधे संपर्क में थे और फिरौती, सरहद पार से हथियार, विस्फोटक और नशों की तस्करी में शामिल थे।

पुलिस को सूचना मिलने पर तरनतारन के थाना सरहाली की पुलिस टीम ने नाका लगाकर 3 मुलजिमों को काबू करके उनके कब्जे में से 2 पिस्तौल बरामद किए हैं। इसके बाद नछत्तर सिंह के खुलासों के आधार पर पुलिस ने तरनतारन के गांव रत्तोके बाहरवार में छुपाया गया एक आई.ई.डी. भी बरामद किया है। नछत्तर सिंह आतंकी हरविंदर सिंह रिंदा और कनाडा में बैठे लखविंदर सिंह लंडा के संपर्क में था। तरनतारन का निवासी लंडा (33), जोकि साल 2017 में कनाडा भाग गया था, ने मोहाली में पंजाब पुलिस इंटैलीजैंस हैडक्वार्टर पर रॉकेट प्रोपेलड ग्रेनेड (आर.पी.जी.) आतंकवादी हमले की साजिश रची थी और अमृतसर में सब-इंस्पेक्टर दिलबाग सिंह की कार के नीचे एक आई.ई.डी. भी लगाया था।