डेविस कप में पहले भारतीय कप्तान Naresh Kumar का 93 वर्ष की आयु में निधन, खेले 101 विंबलडन मैच

Spread the News

डेविस कप में भारत के पहले कप्तान नरेश कुमार का स्वास्थ संबंधी समस्याओं के चलते बुधवार को निधन हो गया। 93 वर्षीय नरेश दिग्गज टेनिस खिलाड़ी लिएंडर पेस के पहले गुरु भी थे। 1952 में डेविस कप डेब्यू करने वाले नरेश अपने पूरे करियर में 101 विंबलडन मैच खेल चुके थे।

बता दें कि उन्होंने तीसरे ग्रैंड स्लैम के चौथे दौर तक भी क्वालीफाई करने की उपलब्धि भी हासिल की थी। वह रामनाथन कृष्णन के साथ 1950 के दशक में भारतीय टेनिस का चेहरा भी बने थे। उन्होंने अपने करियर में 5 एकल खिताब वेल्श चैंपियनशिप (1952), आयरिश चैंपियनशिप (1952, 1953), वेंगेन टूर्नामेंट (1958), फ्रिंटन-ऑन-सी एसेक्स चैंपियनशिप (1957) का टाइटल भी जीता था।

अर्जुन पुरस्कार विजेता नरेश कुमार ने 1969 में एशियाई चैंपियनशिप में आखिरी टूर्नामेंट खेला था। साल 2000 में उन्हें द्रोणाचार्य लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था और यह अवॉर्ड पाने वाले वह पहले टेनिस कोच बने थे। बेहतरीन खिलाड़ी और कोच के साथ-साथ वह खेल कमेंटेटर और लेखक भी रहे।