नामीबिया से भारत पहुंचे 8 चीते, 500 की संख्या होने पर माना जाएगा री-अरेंजमेंट

Spread the News

नई दिल्ली : देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आज शनिवार, 17 सितंबर को जन्मदिन है, इसके साथ ही वह 72 वर्ष के हो गए है। वहीं उनके जन्मदिन पर साउथ अफ्रीका के नामीबिया से श्योपुर के पालपुर कूनो नेशनल पार्क में आठ चीते लाए गए है। जिन्हे पीएम मोदी खुद अपने जन्म दिवस के अवसर पर इन चीतों को पिंजरे से पुली घुमाकर छोड़ेंगे।

नामीबिया के विशेषज्ञों के अनुसार भारत में चीतों का पुनर्व्यवस्थापन (री-अरेंजमेंट) तब माना जाएगा, जब यहां चीतों की संख्या 500 हो जाएगी। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए नामीबिया से हर साल 8-12 चीते भारत भेजे जाएंगे। इसके अलावा भारत में चीतों की वंश वृद्धि भी इसमें शामिल होगी। इस दौरान अंतरराष्ट्रीय स्तर के मानकों के आधार पर चीतों के रहन-सहन समेत अन्य मानकों का पूरा खाका बन गया है।

बता दें कि भारत में 75 साल पहले तक कोरिया (वर्तमान में छत्तीसगढ़ में) में चीता मौजूद था। अब नामीबिया से आ रहे आठ चीतों के साथ यहां चीता युग की शुरुआत हो रही है। दुनिया में वर्तमान में चीतों की संख्या करीब आठ हजार है। साउथ अफ्रीका में इनकी संख्या 1500 से ज्यादा है।