घर पर हुई छापेमारी पर बोले अकाली पार्षद-राजनीतिक प्रतिशोध के तहत की गई कार्रवाई, High Court का करेंगे रुख

Spread the News

लुधियाना : खन्ना में पंजाब पुलिस के तलाशी अभियान को लेकर नया विवाद खड़ा हो गया है। पुलिस ने एडीजीपी एएस रॉय के नेतृत्व में तलाशी अभियान के दौरान अकाली पार्षद के घर पर छापेमारी की। अकाली दल ने इसे राजनीतिक प्रतिशोध बताते हुए उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाने की घोषणा की।

खन्ना के बिलां वाली छपड़ी में तलाशी अभियान के दौरान पंजाब पुलिस ने अकाली पार्षद सर्वदीप सिंह कालिराव के घर पर छापेमारी की। पुलिस सीधे पार्षद के घर के कमरों में गई और बिना किसी चर्चा के सामान की तलाशी ली। तलाशी के बारे में पूछने पर पुलिस व पार्षद के बीच कहासुनी भी हो गई।

पार्षद सर्वदीप सिंह कालिराव ने बताया कि वह अपने घर पर बैठे थे, जब पुलिस उनके घर पहुंची। उनके घर पर इस तरह छापेमारी की गई मानो वे अपराधी हों। उन्होंने आरोप लगाया कि यह राजनीतिक प्रतिशोध है। क्योंकि कुछ दिन पहले ही दो अकाली पार्षद ‘आप’ में शामिल हुए हैं और उन पर भी दबाव बनाया जा रहा है, लेकिन वे किसी दबाव में नहीं आएंगे। पार्षद ने कहा कि छापेमारी करने आए पुलिस अधिकारियों को वह सबक सिखाएंगे।

शिरोमणि अकाली दल कोर कमेटी के सदस्य यदविंदर सिंह यादु ने कहा कि सोमवार को चंडीगढ़ में एक बैठक के दौरान इस मामले को पार्टी अध्यक्ष सुखबीर बादल के ध्यान में लाया जाएगा। पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ हाईकोर्ट का रुख किया जाएगा।