पंजाब के सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को विशेष तौर पर दी जाए कंम्प्यूटर शिक्षा: मुख्य सचिव VK Janjua

Spread the News

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्य सचिव विजय कुमार जंजूआ ने पिकटस सोसायटी (पंजाब इन्फार्मेशन एंड कम्यूनिकेशन टेक्नोलोजी एजुकेशन सोसायटी) की 28वीं बोर्ड आफ गवर्नरज़ की मीटिंग में ऐजूसैट्ट के बुनियादी ढांचे की मज़बूती पर ज़ोर दिया है। उन्होंने कहा कि मुकाबलेबाज़ी के मौजूदा दौर में विद्यार्थियों को समय का साथी बनाने के लिए कंम्प्यूटर शिक्षा की तरफ ख़ास ध्यान देने की ज़रूरत है। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों के विद्यार्थी किसी पक्ष से कम न रहने इस मकसद के लिए पिकटस सोसायटी विशेष भूमिका अदा कर सकती है।

मुख्य सचिव ने कहा कि पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान सरकारी स्कूलों के कायाकल्प के लिए पहले दिन से ही यत्नशील हैं। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को मानक शिक्षा देने के लिए, ख़ास तौर पर पिकटस सोसायटी के द्वारा करवाई जाने वाली कंप्यूटर की पढ़ाई की तरफ विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए। ज़िक्रयोग्य है कि पिकटस सोसायटी के अधीन पंजाब के छटी से बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों को कंप्यूटर शिक्षा, आईसीटी हार्डवेयर और ऐजूसैट्ट के द्वारा शिक्षा मुहैया करवाई जाती है।

इससे पहले मुख्य सचिव को बताया गया कि ऐजूसैट्ट शिक्षा प्रणाली के अधीन 3289 सरकारी हाई और सीनियर सेकंडरी स्कूलों के विद्यार्थियों को मल्टीमीडिया बेस और ई-कंटैंट की सहायता के साथ मानक शिक्षा मुहैया करवाई जा रही है। मीटिंग के दौरान ऐजूसैट्ट के अधीन बुनियादी ढांचे को और मज़बूत करने के लिए एजंडे भी विचारे गए और ट्रांसमिशन हब और स्टूडीओज़ आदि को नयी टैक्नोलोजी के साथ अपग्रेड करने का फ़ैसला लिया गया।

मीटिंग में शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों के इलावा वित्त और योजना विभाग, तकनीकी शिक्षा विभाग, प्रशासन सुधार विभाग, स्थानीय निकाय विभाग, सामाजिक सुरक्षा विभाग, पुष्पा गुजराल साईंस सिटी और पिकटस सोसायटी के उच्च अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।