प्रदेश में जानवरों को रखने के लिए बनाए जाएंगे 1 हजार शैड

Spread the News

जम्मू: न्यू होरीजानस इन शीप एण्ड गोट हसबैन्डरी अमन्ग ट्राईबल क्मयूनिटी : चैलेंजिस एण्ड अप्पोरच्यूनिटीस विषय पर वर्कशाप का शुभारंभ उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने किया। शेरे-कश्मीर इंटरनैशनल कन्वैशन सैंटर कश्मीर में मनोज सिन्हा ने इस वर्कशाप का शुभारंभ किया। इस अवसर पर खानाबदोश समुदाय की मांगों पर विचार व्यक्त करते हुए मनोज सिन्हा ने कहा कि जम्मूकश्मीर केन्द्र शासित प्रदेश में जानवरों को रखने के लिए 1,000 शेडों का निर्माण किया जाएगा जिससे खानाबदोश समुदाय के लोग लाभान्वित होंगे।

उन्होंने कहा कि ट्राईबल अफैयर्स विभाग 1,500 स्वयं सहायता समूहों को 1-1 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देगा जिससे कि वो वूल शियरिंग मशीनों को खरीद सके। सिन्हा ने कहा कि ढोकों पर रहने वाले खानाबदोश 50 स्वयं सहायता समूहों को भी जैनसेट व सोलर पैनल लेने हेतु 3- 3 लाख रूपए की आर्थिक मदद दी जाएगी। उन्होंने कहा कि खानाबदोश लोगों को बीमा के दायरे में लाया जाएगा व उनके जानवरों का बीमा करवाया जाएगा। उन्होंने जेएण्डके एडवाईजरी बोर्ड फार डिवैलमैंट ऑफ किसान एण्ड यू.टी भेड़ पालन विभाग की भी अपने भाषण में सराहना की जिन्होंने इतनी बेहतरीन वर्कशाप आयोजित की है व प्रयास किए जा रहे है कि भेड़- पालन, पशु-पालन क्षेत्र लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करे व एक लाभ वाला क्षेत्र साबित हो।

भेड़- पालन विभाग की बेहतरी के लिए क्या-क्या कदम जम्मू-कश्मीर सरकार उठा रही है की भी जानकारी अपने भाषण में मनोज सिन्हा ने दी और बताया कि तकरीबन 12 लाख परिवार इस क्षेत्र से जुड़े हुए है। मनोज सिन्हा ने कहा कि देश में दूसरे स्थान पर है जम्मू-कश्मीर उन की पैदावार के मामले में जबकि उन की गुणवत्ता पूरे देश के मुकाबले में जम्मूकश्मीर में सबसे बेहतर है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र को बढ़ावा देने हेतु कई महत्वपूर्ण कदम जम्मूकश्मीर सरकार उठा चुकी है और अभी ओर बहुत कुछ करना बाकी है ताकि ये क्षेत्र ओर तरक्की करे। इस अवसर पर उप-राज्यपाल ने शीप ब्रीडर्स डैयरी व शीप ब्रीडर्स मैनुयल को भी जारी किया। उप-राज्यपाल के सलाहकार राजीव राय भटनागर, अटल डुल्लू अतिरिक्त मुख्य सचिव, डा.शाहिद इकबाल चौधरी सचिव ट्राईबल अफैयर्स विभाग ने भी विचार व्यक्त किए जबकि मंडलायुक्त कश्मीर पांडुरंग के पोले सहित अन्य सबंधित विभागों के अधिकारी भी इस अवसर पर मौजूद रहे।