राष्ट्रीय जनप्रतिनिधि सम्मेलन में Kejriwal बोले, श्रीकृष्‍ण की तरह बड़े-बड़े राक्षसों का वध कर रही Aam Aadmi Party

Spread the News

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज रविववार को पहले राष्ट्रीय जनप्रतिनिधि सम्मेलन संबोधित किया। इसमें शामिल होने के लिए 20 राज्यों के नेता पहुंचे। इस दौरान केजरीवाल ने विरोधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि आप का जन्म संविधान को बचाने के लिए हुआ है। 26 नवंबर 1949 को भारत का संविधान गढ़ा था और 26 नवंबर 2012 को ही हमारी पार्टी बनी। ये कोई संयोग नहीं है। आज देश के 20 राज्यों में हमारे 1446 जनप्रतिनिधि हैं। यह हमारे बीज हैं जो भगवान ने बोए हैं। दिल्ली और पंजाब में ये बीज पेड़ बन गए हैं और लोगों को छाया और फल दे रहे हैं।

केजरीवाल ने आगे कहा कि भगवान ने गुजरात में भी 27 बीज बोए थे जो पेड़ बनने वाले हैं। विरोधियों को निशाने पर लेते हुए केजरीवाल ने आगे कहा कि हमारी पार्टी की बातें हजम नहीं हो रही हैं वो हैं हमारी पार्टी की ईमानदार राजनीति, हमारे स्कूलों का विकास, मोहल्ला क्लीनिक की चर्चा। जिस तरह श्री कृष्ण ने कई बड़े-बड़े राक्षसों का वध किया था उसी तरह हम कान्हा जी की तरह गंदी राजनीति करने वाली बड़ी पार्टियों का वध कर रही है। हम बेरोज़गारी,भ्रष्टाचार, महंगाई का वध कर रहे हैं।

जो नेता फ्री की रेवड़ी के खिलाफ हैं वो बेईमान : केजरीवाल

केजरीवाल ने आगे कहा कि जो नेता जनता की फ्री की रेवड़ी के खिलाफ हैं समझ जाना वो बेईमान हैं। अपने दोस्तों के कर्ज माफ करना चाहता है, परिवार के घर भरना चाहता है, MLA खरीदना चाहता है। हालांकि जो बोले जनता को फ्री सुविधाएं मिलनी चाहिए,वो ईमानदार है। हमारे दिल्ली के विधायकों पर 169 झूठे मामले हो चुके हैं। 135 में बरी हो चुके हैं। जो 34 केस बचे हैं उसमें भी बरी हो जाएंगे। जो लाल क़िले से खड़े होकर कहते हैं कि मैं भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ लड़ रहा हूं।