UP के वाराणसी में बनने जा रहा पहला इलेक्ट्रिक पशु शवदाह गृह

Spread the News

उत्तर प्रदेश : वाराणसी प्रदेश में पहला इलेक्ट्रिक पशु शवदाह गृह बनने जा रहा है।जिसके अक्टूबर के महीने तक बनकर तैयार होने की उम्मीद है। मृत पशुओं को खुले में छोड़ देने तथा नदी में बहा देने से वातावरण प्रदूषित होता है। इस प्रदूषण को कम करने और शहर को साफ-सुथरा बनाए रखने के लिए पशु शवदाह गृह बनाया जा रहा है। इसके बनने के बाद आपको सड़क पर या अन्य किसी भी स्थान पर मृत पशु नहीं मिलेंगे और न ही इनके सड़ने की दुर्गंध आएगी।

बता दें कि यह शवदाह गृह बिजली पर आधारित होगा। पर्यावरण विभाग से अनुमति मिलने के बाद मशीन स्थापित की जाएगी । इलेक्ट्रिक शवदाह गृह की क्षमता करीब 400 किलो प्रति घंटा के डिस्पोजल की है। ऐसे में एक घंटे में एक पशु का और एक दिन में 10 से 12 पशुओं का डिस्पोजल किया जा सकेगा। पशुओं का अंतिम संस्कार नि:शुल्क होगा। इस इलेक्ट्रिक पशु शवदाह गृह की लागत 2.24 करोड़ रुपये है।