उंगलियों के व्यायाम से अल्जाइमर रोग से बचा जा सकता है

Spread the News

हर साल 21 सितंबर को विश्व अल्जाइमर दिवस मनाया जाता है। इस मौके पर दुनिया भर के कई देशों व क्षेत्रों में संबंधित गतिविधियों का आयोजन किया जाता है, ताकि पूरा समाज यह समझे कि अल्जाइमर रोग की रोकथाम बहुत महत्वपूर्ण है और इस पर पर्याप्त ध्यान दिया जाना चाहिए। आंकड़े बताते हैं कि चीन में अल्जाइमर के मरीजों की संख्या दुनिया में पहले स्थान पर है। बेशक, चीन में जनसंख्या का आधार बहुत बड़ा है, और चीनी समाज में उम्र बढ़ने का तेजी से विकास हो रहा है। इसलिये अल्जाइमर के मरीज़ों की संख्या भी बढ़ रही है। और एक कारण यह भी है कि अल्जाइमर के प्रति अभी भी प्रभावी उपचारों की कमी है।

इस स्थिति की रोकथाम करने के लिये चीन ने देश भर के 31 प्रांतों, केंद्र शासित शहरों और स्वायत्त प्रदेशों में एक जांच-पड़ताल की है, जिस का उद्देश्य चीन में अल्जाइमर रोग की जागरूकता और जरूरतों की वर्तमान स्थिति को व्यापक रूप से समझना और विश्लेषण करना है। अल्जाइमर रोग की रोकथाम, उपचार और पुनर्वास के शुरुआती वैज्ञानिक विकास के साथ-साथ सरकार के लिए चौतरफा तरीके से संबंधित नीति तैयार करने के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है।

हालांकि अल्जाइमर रोग का कारण स्पष्ट नहीं है, पर लोग निम्न उपायों से इस की रोकथाम कर सकते हैं। पहला, रक्तचाप, रक्त शर्करा और रक्त लिपिड को नियंत्रित करें। दूसरा, उचित व्यायाम करें, स्वस्थ मानसिकता बनाए रखें, और अकसर अपने दिमाग व हाथों का प्रयोग करें। तीसरा, ज्यादा सामाजिक गतिविधियों में भाग लें, लोगों और समाज से अधिक संपर्क करें। 

उन में उंगलियों का व्यायाम तो एक बहुत अच्छा व दिलचस्प उपाय है। उंगलियां मानव स्वास्थ्य में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं, और उंगलियों के व्यायाम थकान को दूर करने, मानसिक बोझ को कम करने और तनाव को दूर करने का जादुई कार्य कर सकते हैं। इसलिए चीन में छोटे बच्चों के बौद्धिक विकास और बुजुर्गों की स्वास्थ्य देखभाल में उंगली के व्यायाम का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि उंगलियों के व्यायाम से अल्जाइमर को रोका जा सकता है।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)