झारखण्ड के गढ़वा जिले में नाबालिक को अगवा कर तीन दिन तक किया दुष्कर्म

Spread the News

झारखण्ड: गढ़वा जिले में बहुत ही शर्मनाक घटना सामने आई है, यहां हैवानों ने एक नाबालिक के साथ तीन दिन तक दुष्कर्म किया। इसके बाद आरोपी पीड़िता को गांव में छोड़ गए तथा उसे और उसके परिवार के लोगो को जान से मारने की धमकी देते हुए पुलिस शिकायत दर्ज न कराने को कहा।

जानकारी के मुताबिक, यह शर्मनाक घटना गढ़वा जिले के बरडीहा थाने के अंतर्गत एक गांव की है। जहां हैवानों ने एक नाबालिक के साथ तीन दिन तक दुष्कर्म किया। पीड़िता ने बताया कि वह 6 सितंबर शाम को शौच करने गई थी, उसी दौरान इरशाद और उसका एक अन्य साथी, जो मुंह बांधे हुए थे, उसके पास आए और उसे जबरदस्ती उसका मुँह दबाकर मोटरसाइकिल पर बैठाकर ले गए। उसी दौरान आरोपियों ने पीड़िता के मुँह पर कपड़ा रखा, जिसके कारण वह बेहोश हो गई। इसके बाद जब उसे होश आया तो उसने खुद को एक बंद कमरे में पाया। इसी दौरान इरशाद तथा उसके साथी ने पीड़िता के परिवार के लोगों को जान से मारने की धमकी देकर तथा बंदूक का भय दिखाकर उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया। पीड़िता के विरोध करने पर आरोपियों ने उसके साथ मारपीट की। इसके बाद 9 सितंबर को आरोपी लाल रंग की कार में बकोइया-मझिआंव सीमा पर पीड़िता को छोड़ गए, जहां पीड़िता की माँ पहले से मौजूद थी। आरोपियों ने पीड़िता और उसकी माँ बन्दूक दिखाकर धमकी देते हुए कहा कि अगर इस बारे में किसी को कुछ बताते है तो वह उसके पुरे परिवार को जान से मार देंगे। पीड़िता तथा उसकी माँ डर के कारण शिकायत दर्ज नहीं करा रही थी, लेकिन परिजनों के समझाने पर शिकायत दर्ज करवाई गई। पुलिस ने आरोपी इरशाद खान तथा उसके साथी के खिलाफ केस दर्ज कर जाँच शुरू कर दी है।