अनधिकृत कॉलोनियों की NOC पंजीकरण कराने में धारकों को किसी प्रकार की नहीं होगी परेशानी: मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा

Spread the News

चंडीगढ़: राज्य में अनाधिकृत कॉलोनियों के निवासी जिनके पास एनओसी है, उन्हें अपनी संपत्ति का पंजीकरण कराने में किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। राजस्व मंत्री ब्रम शंकर जिम्पा ने इस सबंध में संबंधित अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश जारी किए हैं।

राजस्व मंत्री ने कहा कि पंजाब के लोगों को पारदर्शी और भ्रष्टाचार मुक्त सेवाएं मुहैया कराना मान सरकार का मुख्य उद्देश्य है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा जारी निर्देशों को ध्यान में रखते हुए राजस्व विभाग को भी सभी कार्य नियमानुसार एवं व्यवस्थित तरीके से करने के निर्देश दिये गए हैं।

जिम्पा ने कहा कि अनाधिकृत कॉलोनियों में स्थित प्लाट और भवनों के नियमितीकरण के लिए संबंधित व्यक्ति www.punjabregularization.in पोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं। आवेदन जमा करने से लेकर एनओसी प्राप्त करने तक की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन है। उल्लेखनीय है कि यह सुविधा केवल उन आवंटियों/निवासियों के लिए उपलब्ध है जिनकी संपत्तियां 19 मार्च, 2018 से पहले विकसित अनधिकृत कॉलोनियों में आती हैं।

राजस्व मंत्री ने कहा कि एनओसी प्राप्त करने की प्रक्रिया के बाद संबंधित संपत्ति मालिक सरकारी शुल्क पर पंजीकरण करा सकते हैं। स्पष्ट है कि एनओसी पोर्टल पर आवेदन जमा करने की तारीख से 21 कार्य दिवसों के भीतर जारी करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। यह एकल पोर्टल आवेदनों के त्वरित निपटान के लिए एमसी और गैर-एमसी क्षेत्रों में आने वाले प्लाट और भवनों को नियमित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है।