खेल क्षेत्र में अग्रणी बनेगा पंजाब, जल्द भरे जाएंगे विभाग में 220 खाली पड़े कोच पद: खेल मंत्री Meet Hayer

Spread the News

मोगा/चंडीगढ़: पंजाब के खेल एवं उच्च शिक्षा मंत्री गुरमीत सिंह मीत हेयर ने कहा है कि पंजाब को खेल क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए जहां बुनियादी ढांचे को मजबूत किया जा रहा है, वहीं 220 कोच के खाली पदों को शीघ्र ही भरा जा रहा है। मंत्री मीत हेयर आज बुधवार को मोगा के गांव ढुडीके में सरकारी कॉलेज में पांच करोड़ रुपये की लागत से तैयार हॉकी एस्ट्रोटर्फ का उद्घाटन करने पहुंचे थे।

इस अवसर पर मीडिया से बात करते हुए मीत हेयर ने कहा कि पिछली सरकारों ने राज्य में खेल और खिलाड़ियों के विकास के लिए कोई प्रयास नहीं किया। मौजूदा सरकार राज्य में खेल संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि 220 खाली पदों को भरने के अलावा कोचों के नए पद भी सृजित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को कम से कम राष्ट्रीय स्तर पर लाने के लिए हॉकी ओलंपियन बलबीर सिंह सीनियर के नाम से वजीफा योजना चलाई गई है। इस योजना के तहत राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम तीन स्थान प्राप्त करने वाले सीनियर और जूनियर खिलाड़ियों को 8000 रुपये और 6000 प्रतिमाह वजीफा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह योजना खिलाड़ियों को खेलों में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

मंत्री ने कहा कि अब तक की सरकारों ने खिलाड़ियों के लिए समय पर खेल उपकरण खरीदने के लिए फंड ही जारी नहीं किए थे। छह साल बाद आप सरकार ने खेल उपकरण खरीदने के लिए विशेष बजट रखा है। उन्होंने वादा किया कि हर साल खेल बजट बढ़ाया जाएगा। नई खेल नीति के तहत हम खेलों के लिए अलग कैडर तैयार करेंगे ताकि ज्यादा से ज्यादा खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी दी जा सके।