स्कूलों में ‘रघुपति राघव’ पर Mehbooba Mufti से अलग है Farooq Abdullah की राय, बोले-मैं भी भजन गाता हूं…

Spread the News

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के स्कूलों में ‘रघुपति राघव राजा राम’ भजन चलाने को लेकर पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती काफी भड़की हुईं है। उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए ट्वीट कर कहा था कि कश्मीर में स्कूली बच्चों को हिंदू भजन गाने के लिए निर्देशित करना भारत सरकार के वास्तविक हिंदुत्व एजेंडे को उजागर करता है।

वहीं, पूर्व सीएम और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला की सोच मुफ्ती से थोड़ी अलग है। नेता फारूक अब्दुल्ला ने महबूबा मुफ्ती के बयान पर कहा कि वे भी भजन गाते हैं। इसमें क्या गलत है? उन्होंने कहा कि हम द्वि-राष्ट्र सिद्धांत में विश्वास नहीं करते थे। भारत सांप्रदायिक नहीं है और भारत धर्मनिरपेक्ष है। अगर मैं भजन कर रहा हूं, तो क्या यह गलत है? उन्होंने कहा कि अगर कोई हिंदू अजमेर दरगाह जाता है तो क्या वह मुसलमान में तब्दील हो जाएगा?

उल्लेखनीय है कि सोमवार, 19 सितंबर को, महबूबा मुफ्ती ने एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें कश्मीर के एक स्कूल के कर्मचारी छात्रों को एक कक्षा में महात्मा गांधी के पसंदीदा भजन माने जाने वाले प्रसिद्ध भजन ‘रघुपति राघव राजा राम’ का पाठ करवा रहे थे। महबूबा ने वीडियो के कैप्शन में लिखा, “धार्मिक विद्वानों को जेल में डालना, जामा मस्जिद को बंद करना और यहां स्कूली बच्चों को हिंदू भजन गाने का निर्देश देना कश्मीर में भारत सरकार के वास्तविक हिंदुत्व के एजेंडे को उजागर करता है।”

Exit mobile version