फरीदकोट: बाबा फरीद जी के मेले में आम लोगों के प्रवेश पर लगी रोक, बिना पास नहीं होगी एंट्री, वापस जा रहे लोग

Spread the News

अमृतसर : सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एसजीपीसी अध्यक्ष एडवोकेट हरजिंदर सिंह धामी ने आज शुक्रवार को बड़ी बैठक की। अध्यक्ष धामी ने कहा कि ओपरेशन ब्लू स्टार के समय सारे आम सिखों का नरसंहार किया गया। श्री हरमंदिर साहिब पर अटैक किया गया। श्री गुरु ग्रंथ साहिब पर गोलियां चलाई गई। उन्होंने पिछले हमले हमने झेल लिए लेकिन आज खालसा पंथ की रूह पर हमला किया गया। आज हमारे एक्ट को रद्द करने की कोशिश की गई। शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के 1925 के एक्ट को रद्द करने की हर संभव कोशिश की गई। 1925 का एक्ट अभी खड़ा है। एक्ट नही टूटा भले ही कोर्ट ने हरियाणा कमेटी को मंजूरी दे दी हो।

उन्होंने कि मैंने परसो भी हरियाणा के मुख्यमंत्री को मिलने की कोशिश की लेकिन मुझे समय नही दिया गया। SGPC की अंतरिम कमेटी ने 2014 के हरियाणा एसजीएमसी एक्ट को सिरे से रद्द किया। क्योंकि अभी तक 1925 के एक्ट में किसी तरह का संशोधन नही किया गया। हरियाणा के इतिहासिक गुरुद्वारा का प्रबंध एक्ट 1925 के अंतर्गत SGPC ही देखेगी हरजिंदर सिंह धामी ने कहा कि 30 सितंबर को एसजीपीसी की विशेष बैठक अमृतसर के तेजा सिंह समुद्री हाल में बुलाई गई है।