किसानों को बारिश व जलभराव से खराब हुई फसलों की जल्द मिलेगी मुआवजा राशि : दुष्यंत चौटाला

Spread the News

हिसार: उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि बालसमंद और आदमपुर के बाद राज्य सरकार ने नारनौंद के खेड़ी जालब क्षेत्र में फसल खराब के लिए 15 करोड़ 44 लाख 89 हजार 400 रुपये की राशि जारी की है। उन्होंने कहा कि हिसार लोकसभा के अलेवा क्षेत्र के किसानों के लिए भी 7 करोड़ 17 लाख 79 हजार 500 रुपये की राशि जारी की गई है। यह राशि बरसात और जलभराव के कारण से खराब हुई खरीफ-2021 की फसलों के लिए जारी की गई है। उन्होंने बताया कि खेड़ी जालब क्षेत्र में 23767.6 तथा अलेवा क्षेत्र में 11043 एकड़ में फसल खराब हुआ था। इन क्षेत्रों में 6500 रुपये प्रति एकड़ के हिसाब से मुआवजा राशि दी गई है। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत ने बताया कि इससे पूर्व राज्य सरकार द्वारा तहसील बालसमंद व आदमपुर क्षेत्र के किसानों की वर्ष 2020 में खरीफ फसल के खराब की क्षतिपूर्ति के लिए 58 करोड़ 34 लाख 15 हजार 500 रुपये की मुआवजा राशि जारी की गई थी।

उन्होंने बताया कि बालसमंद तहसील के किसानों की 6 हजार 785 एकड़ में कपास तथा 44 हजार 212 एकड़ क्षेत्र में खरीफ की अन्य फसलें प्रभावित हुई थी। आदमपुर तहसील में 36 हजार 414 एकड़ में कपास तथा 6 हजार 883 एकड़ में खरीफ की अन्य फसलें खराब हुई थी। कपास फसल की क्षतिपूर्ति के लिए 7 हजार रुपये प्रति एकड़ तथा अन्य फसलों के लिए 5500 रुपये प्रति एकड़ की मुआवजा राशि दी गई है। बालसमंद तहसील के किसानों को 29 करोड़ 6 लाख 61 हजार रुपये तथा आदमपुर तहसील के किसानों को 29 करोड़ 27 लाख 54 हजार 500 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी। मुआवजा राशि जारी किए जाने पर क्षेत्र के किसानों ने उपमुख्यमंत्री का आभार जताया। उपमुख्यमंत्री ने किसानों को बताया कि मुआवजा राशि का वितरण करने के लिए राजस्व विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं।