United Nations ने दी चेतावनी, यूएन हॉर्न ऑफ अफ्रीका में 36.1 मिलियन लोगों पर मंडरा रहा अकाल का खतरा

Spread the News

नैरोबीः संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी है कि हॉर्न ऑफ अफ्रीका में कम से कम 36.1 मिलियन लोग अक्टूबर में भीषण सूखे से प्रभावित होंगे। जिनमें इथियोपिया में 24.1 मिलियन, सोमालिया में 7.8 मिलियन और केन्या में 4.2 मिलियन लोग शामिल हैं। एक समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, मानवीय मामलों के समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (ओसीएचए) ने कहा कि सूखे से प्रभावित लोगों का आंकड़ा जुलाई से बढ़ता जा रहा है। पहले ये 19.4 मिलियन था। ओसीएचए ने कहा कि सहायता एजेंसियां इस आपात स्थिति से निपटने के लिए चौबीसों घंटे काम कर रही हैं। इस प्रक्रिया को बढ़ाने और बनाए रखने के लिए तत्काल अतिरिक्त धन की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि हॉर्न ऑफ अफ्रीका में समुदायों को भुखमरी के तत्काल खतरे का सामना करना पड़ रहा है। पूर्वानुमानों से संकेत मिलते हैं कि अक्टूबर-दिसंबर बरसात के मौसम के खराब प्रदर्शन की संभावना है, जो इथियोपिया, केन्या और सोमालिया के कुछ हिस्सों में लगातार पांचवें असफल मौसम को चिन्हित करता है। ओसीएचए के अनुसार, सोमालिया के दो जिलों में अकाल का खतरा है। अक्टूबर और दिसंबर के बीच इथियोपिया, केन्या और सोमालिया में सूखे के कारण कम से कम 21 मिलियन लोगों को खाद्य असुरक्षा का सामना करना पड़ सकता है।

ओसीएचए ने कहा कि व्यापक आर्थिक चुनौतियों, औसत से कम फसल और यूक्रेन-रूस संघर्ष के परिणामस्वरूप अंतरराष्ट्रीय बाजारों में खाद्य और ईंधन की बढ़ती कीमतों के संयोजन के कारण कई सूखा प्रभावित क्षेत्रों में खाद्य कीमतें बढ़ रही हैं। बढ़ती कीमतें परिवारों को बुनियादी सामान भी खरीदने में असमर्थ बना रही हैं। उन्हें भोजन और अन्य जरूरी चीजों के लिए अपनी मेहनत की कमाई और संपत्ति बेचने पर मजबूर कर रही हैं।

Exit mobile version