Duleep Trophy 2022: पश्चिम क्षेत्र ने 294 रन से दी दक्षिण क्षेत्र को मात, मैच में चमे यशस्वी जायसवाल-जयदेव उनादकट

Spread the News

कोयंबटूर: पश्चिम क्षेत्र ने यशस्वी जायसवाल (265) के दोहरे शतक और जयदेव उनादकट (6 विकेट) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत दक्षिण क्षेत्र को 294 रन से हराकर रविवार को दिलीप ट्रॉफी खिताब जीत लिया। पश्चिम ने दक्षिण को 529 रन का लक्ष्य दिया था, जिसके जवाब में दक्षिण 234 रन पर ऑलआऊट हो गई। टी रवि तेजा और रविश्रीनिवासन साई किशोर ने 5वें दिन दक्षिण की पारी को 154/6 से आगे बढ़ाते हुए सराहनीय संघर्ष किया।

दोनों ने पहले 1 घंटे में 49 रन जोड़े, लेकिन ड्रिंक ब्रेक के बाद साई किशोर (07) का विकेट गिरते ही अगले 3 बल्लेबाज भी तेजी से आऊट हो गए। रोहन कुन्नुमल (93) के बाद रवि तेजा ने दक्षिण के लिए सर्वाधिक 53 रन बनाए। 5वें दिन रवि तेजा और जायसवाल के बीच मैदान में बहस भी हुई। पश्चिम की ओर से शम्स मुलानी ने दूसरी पारी में 4 विकेट लिए, जबकि अतीत सेठ ने 2 और चिंतन गज ने 1 विकेट लिया। पहली पारी में 4 विकेट चटकाने वाले उनादकट ने 2 विकेट निकाले। इससे पहले, पश्चिम ने पहली पारी में 57 रन से पिछड़ने के बाद दूसरी पारी में 585 रन बनाकर दक्षिण को 529 रन का लक्ष्य दिया था।

कप्तान रहाणे ने छींटाकशी करने पर जायसवाल को मैदान से बाहर भेजा

पश्चिम क्षेत्र के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने दक्षिण क्षेत्र के खिलाफ दिलीप ट्रॉफी फाइनल के 5वें और अंतिम दिन रविवार को यहां अनुशासनहीनता दिखाने वाले अपने साथी यशस्वी जायसवाल को मैदान छोड़ने का आदेश देकर नई मिसाल पेश की। जायसवाल ने दक्षिण क्षेत्र के बल्लेबाज रवि तेजा पर छींटाकशी की जिसके बाद उनके कप्तान रहाणे ने उन्हें मैदान से बाहर जाने के लिए कहा। जायसवाल बल्लेबाज के करीब क्षेत्ररक्षण कर रहे थे और लगातार छींटाकशी करने के कारण रवि तेजा ने उनकी शिकायत भी की। इसके बाद पश्चिम क्षेत्र ने 10 खिलाड़ियों के साथ ही क्षेत्ररक्षण किया।