हरियाणा: गृह मंत्री अनिल विज सुनेंगे लोगों की समस्याएं, कष्ट निवारण समिति की बैठक की करेंगे अध्यक्षता

Spread the News

हिसार: प्रदेश के गृह मंत्री अनिल विज जिले भर के समस्याओं और शिकायतों से पीड़ित लोगों की गुहार सुनने वाले हैं। वे कष्ट निवारण समिति की होने वाली बैठक की अध्यक्षता करेंगे। ज्यों की इस बारे में पत्र जारी हुआ तो अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। विज का अधिकारियों के प्रति रुख जगजाहिर है। बस इसी बात को लेकर अधिकारियों में खौफ की स्थिति हो गई है। बैठक में शिकायतों पर संज्ञान लेते समय अधिकारियों की सफाई पर गंभीरता से गौर करने वाले अनिल विज के समिति की बैठक में आने की सूचना के साथ ही लघु सचिवालय कार्यालयों में अधिकांश अधिकारियों के माथे पर चिंता की लकीरे उभरने लगी है। इसका एक ज्वलंत उदाहरण तो समाज कल्याण विभाग के कर्मचारियों के बारे में मिली शिकायत पर उपायुक्त का तुरंत प्रभाव से संज्ञान लेना ही है।

उपायुक्त खुद ही एक विधवा की शिकायत पर समाज कल्याण विभाग पहुंचे और रिकार्ड खंगाल डाला। डीसी ने कर्मचारियों को फटकार लगाई और लंबित केसों का एक महीने से अधिक के समय का डाटा भी तलब कर लिया। स्वास्थ्य विभाग भी अनिल विज के पास है, ऐसे में सिविल अस्पताल को चमकाने का काम भी आज से शुरू हो गया। सिविल अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में साफ-सफाई का काम शुरू हो गया। इसके अलावा सिविल अस्पताल को चमकाने के आदेश जारी हुए।

इसके बाद से सफाई कर्मी पूरे अस्पताल को साफ करने में जुट गए हैं। पुलिस महकमे ने भी इमरजेंसी सीलिंग प्लान के तहत प्रैक्टिस करने में जुटी हुई है। इसके साथ-साथ लंबित मामलों में भी तेजी लाई गई है। उपायुक्त ने भी बेवजह चक्कर कटवाने वाले अधिकारी व कर्मचारी की जिम्मेवारी व जवाबदेही को तय करने को आगाह कर दिया है।