Altaf Shah को मानवीय आधार पर रिहा किया जाए: Mehbooba Mufti

Spread the News

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से अल्ताफ शाह को मानवीय आधार पर रिहा करने की अपील की, जो गुर्दे के कैंसर से ग्रस्त है। अल्ताफ शाह दिवंगत अलगाववादी नेता सयैद अली गिलानी का दामाद है। उसे वर्ष 2017 में छह अन्य के साथ आतंकवाद के वित्त पोषण मामले में गिरफ्तार किया गया था।

वह इस समय दिल्ली स्थित राम मनोहर लोहिया अस्पताल (आरएमएल) की चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में भर्ती है। महबूबा ने ट्वीट किया, ‘‘अल्ताफ शाह को कैद में रखना अमानवीय है, क्योंकि वह गंभीर रूप से बीमार है। केंद्रीय गृह मंत्री से उसे मानवीय आधार पर रिहा करने का अनुरोध करती हूं, ताकि वह इस मुश्किल समय में अपने परिवार के साथ रह सके।’’ पीडीपी प्रमुख ने यह टिप्पणी अल्ताफ शाह की बेटी रुआ शाह के ट्वीट पर की।

रुआ ने बीती रात ट्वीट किया था, ‘‘मेरे पिता को गुर्दे का कैंसर होने की बात पता चली है और यह उनकी हड्डियों सहित शरीर के अन्य हिस्सों में फैल रहा है। मेरे पूरे परिवार की ओर से अनुरोध है कि हमें उनसे मिलने दिया जाए और स्वास्थ्य आधार पर उनकी जमानत अर्जी पर विचार किया जाए।’’

रुआ ने अपने ट्वीट में केंद्रीय गृह मंत्री और प्रधानमंत्री को टैग किया है। रुआ ने आगे कहा, ‘‘वह (अल्ताफ शाह) इस समय आरएमएल के आईसीयू (सघन चिकित्सा इकाई) में ऑक्सीजन पर हैं, जहां पर कैंसर विभाग नहीं है। मेरे 66 वर्षीय पिता बीते पांच वर्षों से दिल्ली की तिहाड़ जेल में राजनीतिक कैदी के तौर पर बंद हैं।’’