IND W vs SL W: भारत ने श्रीलंका को 41 रन से दी शिकस्त, Jemimah Rodrigues ने बनाया विश्व रिकॉर्ड

Spread the News

सिलहट: जेमिमा रॉड्रिग्स की टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में करियर की सर्वश्रेष्ठ 76 रन की पारी के बाद गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन से भारत ने शनिवार के यहां महिला एशिया कप के शुरूआती मैच में श्रीलंका के खिलाफ 41 रन से जीत दर्ज की। जेमिमा ने 53 गेंद की अपनी पारी के दौरान 11 चौके और एक छक्का जड़ा जिससे भारत ने बल्लेबाजी का न्योता मिलने के बाद छह विकेट पर 150 रन का स्कोर बनाया। विकेट पर कम उछाल के कारण बल्लेबाजों को रन बनाने में दिक्कत हो रही थी।

इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने नियमित अंतराल पर विकेट झटककर श्रीलंका को 18.2 ओवर में 109 रन के अंदर समेट दिया। भारतीय खिलाड़ियों ने सभी तीनों विभागों में श्रीलंकाई टीम से काफी बेहतर प्रदर्शन दिखाया, हालांकि बल्लेबाजी का न्योता मिलने के बाद उनकी शुरूआत अच्छी नहीं रही।

उप कप्तान स्मृति मंधाना (10 रन) आउट होने वाली पहली खिलाड़ी रहीं जबकि उनकी साथी सलामी बल्लेबाज शेफाली वर्मा (06 रन) की समस्या कायम रही और वह स्पिनर ओशादी राणासिंघे (32 रन देकर तीन विकेट) का पहला शिकार बनी। कलाई की चोट से वापसी कर रहीं जेमिमा शुरू से ही नियंत्रण बनाए थीं और उन्होंने खूबसूरती से बेहतरीन टाइमिंग से रन जुटाए। वह प्रत्येक ओवर में गेंद को सीमारेखा के पार कराती रहीं और उन्होंने श्रीलंकाई बल्लेबाजी आक्रमण के खिलाफ मैदान के चारों ओर रन बटोरे।

जेमिमा ने 38 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा कर लिया और कप्तान हरमनप्रीत कौर (30 गेंद में 33 रन) के साथ मिलकर भारत को 100 रन के पार पहुंचाया। इन दोनों ने 71 गेंद में 92 रन बनाए। हरमनप्रीत भी खतरनाक दिख रही थीं जिन्हें 15 ओवर में जीवनदान मिला जब सुगंधिका कुमारी (26 रन देकर एक विकेट) ने उनका कैच छोड़ दिया। हालांकि यह भारतीय इसका फायदा नहीं उठा सकीं और अगले ओवर में राणासिंघे ने उन्हें स्टंप आउट कराया।

श्रीलंकाई गेंदबाजों ने अंतिम ओवरों में वापसी करते हुए कई विकेट निकाले। जेमिमा तेजी से रन जुटा रही थीं और वह टी20 अंतरराष्ट्रीय में करियर के अपने पिछले सर्वश्रेष्ठ 72 रन के स्कोर को पीछे छोड़ने में सफल रहीं। पर उनकी शानदार पारी चामरी अटापट्टू (आठ रन देकर एक विकेट) की धीमी और नीची गेंद पर खत्म हुई। दयालन हेमलता ने फिर अंत में नाबाद 13 रन बनाये जबकि ऋचा घोष (09) ने एक छक्का जड़ा।

श्रीलंकाई स्पिनरों ने राणासिंघे की अगुआई में अच्छा प्रदर्शन किया। इस लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका ने शानदार शुरूआत की और पहले ही ओवर में तेज गेंदबाज रेणुका सिंह (20 रन देकर कोई विकेट नहीं) पर 13 रन जुटा लिये। लेकिन श्रीलंकाई टीम इस लय को जारी नहीं रख सकी और टीम ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवा दिये। आल राउंडर दीप्ति शर्मा (15 रन देकर दो विकेट) को अनुभवी चामरी अटापट्टू (05 रन) का महत्वपूर्ण विकेट मिला।

विकेटों के बीच श्रीलंका का प्रदर्शन काफी खराब रहा जिसका भारतीय टीम ने पूरा फायदा उठाया। दीप्ति ने मेलशा शेहानी (09 रन) के रन आउट किया लेकिन सलामी बल्लेबाज र्हिषता समरविक्रमा (26 रन) ने आक्रामक खेलना जारी रखा, पर वह भी आठवें ओवर में रन आउट हो गयीं। जरूरी रन गति बढ़ रही थी जिससे श्रीलंकाई टीम दबाव में आ गई।

पूजा वस्त्राकर (12 रन देकर दो विकेट) ने नीलाक्षी डिसिल्वा (03 रन) और कविशा दिलहारी (01 रन) को लगातार ओवरों में आउट किया जिससे श्रीलंका का स्कोर पांच विकेट पर 61 रन हो गया। हालांकि हसिनी परेरा (30 रन) ने विकेटकीपर अनुष्का संजीवनी (05 रन) और ओशिदी राणासिंघे (11 रन) ने मिलकर टीम को 100 रन के पार कराया लेकिन स्पिनर हेमलता (15 रन देकर तीन विकेट) ने पुछल्ले बल्लेबाजों को आउट करते हुए तीन विकेट झटके जिससे भारत ने जीत से एशिया कप अभियान शुरू किया।