स्वच्छ जल और हरे-भरे पहाड़ अमूल्य संपत्ति हैं : शी चिनफिंग

Spread the News

यू गांव पूर्वी चीन के चच्यांग प्रांत में स्थित एक छोटा गांव है। पिछली शताब्दी के 90वें दशक में इस गांव के लोगों ने अमीर बनने के लिये पहाड़ पर उच्च गुणवत्ता वाले चूना पत्थर पर निर्भर रहकर एक सीमेंट फैक्ट्री की स्थापना की। उसी समय हर दिन फैक्ट्री से मशीनों की आवाज़ आती थी। हालांकि गांव में लोग अमीर बन गये, लेकिन गांव से गुजरने वाली नदी प्रदूषित हो गई, और आसमान भी धूसर हो गया। वर्ष 2003 में यानी शी चिनफिंग के चच्यांग प्रांत में काम करने के दूसरे साल में उन्होंने पूरे प्रांत में पारिस्थितिक निर्माण शुरू किया। इसके लिये यू गांव में पत्थर की तीन खदान और एक सीमेंट फैक्ट्री बंद कर दी गयीं। पर भविष्य में स्थानीय लोग कैसे पैसे कमाएंगे? यह एक बड़ी समस्या बन गयी।

वर्ष 2005 के 15 अगस्त को शी चिनफिंग ने यू गांव का दौरा किया और वहां का अध्ययन किया। स्थानीय अधिकारियों के साथ आदान-प्रदान करते समय शी चिनफिंग ने कहा कि हमें अविचल रूप से अपने रास्ते पर कायम रहना चाहिये, और अनवरत विकास के रास्ते पर डटा रहना चाहिए। क्योंकि स्वच्छ जल और हरे-भरे पहाड़ अमूल्य संपत्ति हैं। शी चिनफिंग ने कहा कि यू गांव आनची काऊंटी में स्थित है, जहां शांगहाई, हांगचो, सूचो आदि बड़े शहरों से बहुत नज़दीक है। इसलिये यू गांव में पर्यटन का विकास करने की बड़ी संभावना है। फिर शी चिनफिंग की सलाह पर यू गांव ने अपना विकास किया। 2020 के 30 मार्च को जब शी चिनफिंग ने फिर एक बार यू गांव का दौरा किया, तो वहां का पर्यावरण बहुत अच्छा बन गया, और हर परिवार ने अपनी-अपनी इमारत का निर्माण किया है, और प्रति व्यक्ति आय 50 हजार युआन तक पहुंच
गयी।
(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)