T20 Series: सूर्यकुमार के नाम कई रिकॉर्ड, एक कैलेंडर ईयर में 50 छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज

Spread the News

गुवाहाटी: भारत के स्टार बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव भले ही ‘मैन ऑफ द मैच’ पुरस्कार से चूक गए हो लेकिन दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रविवार को सिर्फ 22 गेंदों में 61 रन के उनके प्रयास ने उन्हें यहां बरसापारा क्रिकेट स्टेडियम में श्रृंखला-जीतने वाले दूसरे टी20 मैच में कई रिकॉर्ड बनाए।

एक कैलेंडर ईयर में 50 छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज

एक कैलेंडर ईयर में सूर्यकुमार टी20 अंतरराष्ट्रीय में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं। बता दें कि टी20 सीरिज में उन्होंने अब तक कुल 50 छक्के लगाए हैं। इस मुकाम तक पहुंचने वाले वह पहले खिलाड़ी है। इससे पहले यह रिकॉर्ड मोहम्मद रिजवान के नाम था, जिन्होंने साल 2021 में 42 छक्के जड़े थे।

18 गेंदों में अर्धशतक पूरा करने का रिकॉर्ड

सूर्यकुमार ने 18 गेंदों में अर्धशतक पूरा किया, जो भारत के लिए इस प्रारूप में संयुक्त रूप से दूसरा सबसे तेज अर्धशतक था। युवराज सिंह के नाम अभी भी 2007 के पहले टी20 विश्व कप में अपने 12 गेंदों में अर्धशतक का रिकॉर्ड है। सूर्या ने केएल राहुल की शानदार अर्धशतक की बराबरी की। भारत ने तीन मैचों की श्रृंखला के दूसरे टी20 में 20 ओवरों में 237/3 का विशाल स्कोर खड़ा किया और फिर प्रोटियाज को 221/3 पर रोक दिया और 16 रन से विजयी होकर श्रृंखला में 2-0 की अजेय बढ़त ले ली।

टी20 में बनाए 1,000 रन

सूर्यकुमार ने अपनी पारी के दौरान एक और रिकॉर्ड भी बनाया, जिसमें 1,000 टी20 रन बनाए। ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने 604 गेंदों में वहां पहुंचने का रिकॉर्ड बनाया था, लेकिन सूर्यकुमार ने यह मुकाम टी20 में सिर्फ 573वीं गेंद पर पूरा किया।

विराट-सूर्य की जबरदस्त केमिस्ट्री

आईसीसी के अनुसार, विराट कोहली और सूर्य कुमार (42 गेंदों में 102) के बीच साझेदारी भी इस प्रारूप में भारत का सबसे तेज 100 रन या उससे अधिक की साझेदारी थी। भारत ने दक्षिण अफ्रीका पर घर पर अपनी पहली द्विपक्षीय श्रृंखला जीत भी सुनिश्चित की। भारत में खेली गई पिछली तीन श्रृंखलाओं में दक्षिण अफ्रीका ने एक बार (2015) सीरीज जीती थी, जबकि शेष 2 श्रृंखलाएं (2019, 2022) ड्रा रही थीं।

सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और केएल राहुल ने 10 ओवर से भी कम समय में 96 रन बनाकर भारत की अच्छी शुरूआत की। कोहली भी अच्छे इरादे से मैदान पर आए थे, लेकिन सूर्यकुमार ही थे जिन्होंने एक बार फिर मैच का पूरा पासा पलट दिया। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 237/3 का स्कोर बनाया, उनका चौथा सबसे बड़ा टी20 कुल अंतिम 10 ओवरों में 141 रन का विशाल स्कोर था। यह टी20 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बनाया गया सर्वोच्च स्कोर था।

जवाब में, अर्शदीप सिंह ने अपने पहले ओवर में दो विकेट लेने के बाद दक्षिण अफ्रीका को 5/2 पर सिमट दिया, लेकिन क्विंटन डी कॉक और डेविड मिलर ने एक शतक के साथ फिर से वापसी करने की कोशिश की, जिससे दक्षिण अफ्रीका को लक्ष्य को कम करने का एक दूर का मौका मिला।

मिलर ने अपना दूसरा टी20 शतक सिर्फ 46 गेंदों में पूरा किया, लेकिन अंत में, दक्षिण अफ्रीका के लिए लक्ष्य का पीछा करना बहुत अधिक था। मिलर और डी कॉक के बीच नाबाद 174 रनों की साझेदारी अब टी20 में चौथे विकेट के लिए सबसे अधिक है।