अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध कुल्लू दशहरा उत्सव में देवी-देवताओं का आगमन शुरू, ढोल- नगाड़ों की गूंज

कुल्लू: अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध कुल्लू दशहरा उत्सव में देवी-देवताओं का आगमन शुरू हो गया है।आज मंगलवार को नवमीं के दिन ढोल- नगाड़ों के साथ पूरा शहर देवी-देवताओं की पालकियों के साथ इस शोभा यात्रा में शामिल हुआ। श्रद्धालुओं में हिमाचल के अलावा पड़ोसी प्रदेशो के भी लोग झूम रहे थे। कुल्लू के साथ खराहल, ऊझी घाटी, बंजार, सैंज, रूपी वैली के सैकड़ों देवी-देवता दशहरा की शोभा बढ़ाने के लिए पहुंचे रहे हैं।

बता दें कि कुल्लू दशहरा 372 वर्षों से भगवान रघुनाथ की अनुकम्पा से मनाया जा रहा है। माना जाता है कि देवी-देवताओं के बिना दशहरा का महत्व कुछ भी नहीं है। दशहरा उत्सव समिति की ओर से हर साल की तरह इस बार भी निमंत्रण पत्र भेजे गए हैं।