प्रौद्योगिकीय नवाचार से चीन जोश से भरा है

Spread the News

पिछले दस सालों में चीन ने प्रौद्योगिकी नवाचार में बड़ी प्रगति की और अंतर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक व तकनीकी नवाचार सहयोग को मजबूत किया। विश्व बौद्धिक संपदा संगठन ने हाल में वर्ष 2022 वैश्विक नवाचार सूचकांक जारी किया। चीन वर्ष 2012 के 34वें स्थान से बढ़कर 11वें स्थान पर जा पहुंचा, जो लगातार 10 सालों से बढ़ा। चीन में रहने वाले विदेशी लोग गहराई से महसूस करते हैं।

थ्येनचिन विश्वविद्यालय के ब्रिटिश प्रोफेसर पीटर टेलर ने कहा कि अधिकांश यूरोपीय देशों की तुलना में चीन नवाचार और जीवन शक्ति से भरा है। विश्वविद्यालय में वैज्ञानिक अनुसंधान बढ़ने के चलते चिकित्सा व देखभाल और इंजीनियरिंग निर्माण आदि क्षेत्रों में चीन ज्यादा प्रगति करेगा।

पिछले दस सालों में चिकित्सा क्षेत्र में भी चीन ने महत्वपूर्ण उपलब्धियां प्राप्त कीं। कैपिटल चिकित्सा विश्वविद्यालय के अधीनस्थ पेइचिंग आनचन अस्पताल के इंटर्न डॉक्टर महमूद अबुहरबी फिलिस्तीन से आते हैं। उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकीय नवाचार से चीन के चिकित्सा विकास को महत्वपूर्ण समर्थन मिला है।
(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

Exit mobile version