नहर टूटने से फसल हुई बर्बाद, किसान बोले- हर महीने में आठ बार टूटती है नहर, विभाग कर रहा अनदेखी

Spread the News

मानसा: मानसा जिले के अहलूपुर गांव में नई धंडल नहर किसानों के लिए आफत बन गई है। इसके टूटने से पक्की फसलों में चार फीट पानी जमा होने से वह खराब हो गई हैं। किसानों ने सरकार और संबंधित विभाग से इसकी मरम्मत की मांग की है। जानकारी देते हुए किसानों ने बताया कि नहर के बार-बार टूटने से फसलों को नुकसान हो रहा है। आठ दिन पहले ही यह नहर टूट गई थी और फसल खराब हो गई थी। जब उन्होंने जेई को फोन किया तो उन्होंने कहा कि बांध बनाकर पानी को रोका गया है, लेकिन विभाग इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है।

परेशान किसानों ने आगे कहा कि यह नहर महीने में कम से कम आठ बार टूटती है और किसानों को भारी नुकसान होता है। फसलों के बीच चार फीट पानी जमा हो गया है और पचास से साठ एकड़ की फसल को नुकसान पहुंचा है। अगर विभाग को पता है कि यह नहर बार-बार टूटती है तो फिर से इसका निर्माण क्यों नहीं कराया जा रहा है।