ऑपरेशन लोटस : Vigilance आम आदमी पार्टी के 7 विधायकों के दर्ज करेगा बयान

Spread the News

चंडीगढ़ : आम आदमी पार्टी के विधायकों की खरीदफरोख्त के लिए भाजपा द्वारा चलाए कथित ऑपरेशन लोटस मामले में विजीलैंस ब्यूरो ने जांच तेज कर दी है। विजीलैंस ने आप के 2 वधायकों के बयान कलमबद्ध किए हैं जबकि 7 और विधायकों के बयान दर्ज करने बाकी हैं। आप विधायकों ने डी.जी.पी. गौरव यादव को शिकायत देकर आरोप लगाया था कि भाजपा में शामिल होने के लिए उन्हें 25 करोड़ रुपए ऑफर किए गए थे और ऐसा न करने पर धमकियां दी गई थीं।

ब्यूरो ने एक ए.आई.जी .स्तर के अधिकारी की अगुवाई में टीम का गठन किया है जो विधायकों के बयान दर्ज कर उनसे सुबूत इकठ्ठा कर रही है। ब्यूरो की टीम ने अभी तक जालंधर के विधायक शीतल अंगुराल और रमन अरोड़ा के बयान दर्ज किए हैं। ब्यूरो की टीम जल्द ही आप विधायक एवं डिप्टी स्पीकर जय किशन रोड़ी, रूपिंदर हैप्पी, बुधराम, कुलजीत सिंह रंधावा, मनजीत सिंह बिलासपुर, दिनेश चड्ढा और मास्टर जगसीर सिंह के बयान दर्ज करेगी।

ऑप्रेशन लोटस का कोई वजूद नहीं : अश्वनी शर्मा

भाजपा ने इस पूरे मामले को काल्पनिक करार देते हुए आम आदमी पार्टी पर झूठ बोलने का आरोप लगाया है। पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने कहा कि भगवंत मान सरकार सभी फ्रंटों पर बुरी तरह फेल हुई है और अपनी नाकामी छुपाने के लिए ऑप्रेशन लोटस का ड्रामा खेल रही है जिसका कोई वजूद ही नहीं है। आप सरकार ने ऑप्रेशन लोटस के खिलाफ विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर मुख्यमंत्री भगवंत मान ने विश्वास प्रस्ताव पास कराकर दावा किया कि उनके सभी 92 विधायक एकजुट होकर सराकर के साथ हैं और भाजपा की साजिश को नाकाम कर दिया गया है।