कांग्रेस पार्टी के नेताओं के खिलाफ दुश्मनी की राजनीति कर रही पंजाब सरकार : Raja Warring

Spread the News

चंडीगढ़ : पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वड़िंग ने आम आदमी पार्टी सरकार की निंदा करते हुए कहा कि पंजाब सरकार कांग्रेस पार्टी के नेताओं के खिलाफ दुश्मनी की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी लोगों की अदालत में इस लड़ाई का जवाब देगी। उन्होंने एक ठेकेदार से पैसे लगने के लिए साजिश रचने के मामले में मंत्री फौजा सिंह सरारी के खिलाफ मजबूत सबूत होने के बावजूद उसे दिए जा रहे संरक्षण के खिलाफ राज्य स्तर पर प्रदर्शन किए जाने का भी ऐलान किया।

उन्होंने आप सरकार से कहा कि “बहुत हो गया, हम आपके द्वारा बिना किसी सबूत के अपनी मनमर्जी से चुन-चुन कर लोगों को प्रताड़ित करने व धमकाने की और इजाजत नहीं दे सकते।” प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि एक ओर आप ने अपने दो मंत्रियों विजय सिंगला और फौजा सिंह सरारी को आजाद घूमने की छूट दे रखी है। सिंगला के संबंध में ड्रामा किया और बाद में अदालत में केस को अच्छी तरीके से नहीं पेश किया, जिसे लेकर बड़े-बड़े दावों के विपरीत या तो इनके पास सबूत नहीं है या फिर उसे बचाने के लिए सबूतों को अदालत से छुपा लिया गया। इसी तरह सरारी के खिलाफ साफ तौर पर खुला मामला है, जिसके अपने ओएसडी ने स्वीकार किया है कि ऑडियो रिकॉर्डिंग सही है। उसके खिलाफ कोई भी कार्रवाई करना तो दूर, आपने तो जांच भी नहीं शुरू की।

उन्होंने कहा कि कांग्रेसी नेताओं जैसे साधु सिंह धर्मसोत, संगत सिंह गिलजियां, भारत भूषण आशू और अब कैप्टन संदीप संधू के खिलाफ केस दर्ज करने को लेकर वड़िंग ने कहा कि सिर्फ इसलिए क्योंकि किसी व्यक्ति ने आरोप लगाया कि उसने किसी को पैसे दिए या उसने उसे कोई काम करने को कहा, आपने केस दर्ज कर लिए और एक पूर्व मंत्री को जेल भेज दिया।” उन्होंने खुलासा किया कि दुश्मनी की राजनीति के तहत बड़ी संख्या में कांग्रेसी सरपंचों और जमीनी स्तर पर कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित किया गया है। यह तानाशाही और अस्वीकार योग्य है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने चेतावनी देते हुए कहा कि आप खतरनाक प्रथा कायम कर रही है और इसका कोई अंत नहीं होगा, यदि इसे यहां और अभी ना रोका गया। आप हमेशा सत्ता में नहीं रहने वाले और ना ही कहीं जाने वाले हो, आपको यहीं पर ही इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा।

उन्होंने पुलिस अधिकारियों को आंखें बंद करके आप सरकार के हुक्म मानने के विरुद्ध चेतावनी दी। वड़िंग ने कहा कि “कांग्रेसी नेताओं के विरुद्ध दुश्मनी और प्रताड़ना की राजनीति का अंत होना चाहिए। हम प्रदर्शनों को गलियों तक लेकर जाएंगे और अधिक सहन नहीं करेंगे।” उन्होंने सरकार को दुश्मनी की राजनीति के तहत दर्ज किए गए झूठे मामलों में सबूत पेश करने को कहा।