मुंह पर काली पट्टी-हाथ में पेमेंट दो का बैनर, 60 लाख बकाया राशि को लेकर किया प्रदर्शन

Spread the News

चंडीगढ़: पंचकूला के उद्यमी कृष्ण लाल गुलाटी ने हरियाणा के मुख्य चुनाव आयुक्त के दफ्तर के सामने शांति पूर्वक विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने मुंह पर काला रिबन बांधकर प्रदर्शन किया। गुलाटी ने हरियाणा के कुछ पूर्व IAS अधिकारियों पर सोसायटी में उनके किए गए काम का मेहनताना न देने और उनको मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। उनका आरोप है कि द न्यू हरियाणवी ऑफिसर्स ग्रुप हाउसिंग सोसायटी लिमिटेड पंचकूला सेक्टर-6 एमसीडी जीएम-1 में लगाए गए अस्सी फ्लैट्स के दरवाज़ों के लिए बकाया क़रीब साठ लाख रुपये (मूल राशि 31,94,474/- रुपये) का भुगतान नहीं किया, जिससे उनके बिज़नेस में काफी प्रभाव पड़ा और वह मानसिक रूप से परेशान हो गए।

उद्यमी का आरोप है कि जिस समय उनको यह काम दिया गया, उस समय सोसायटी की प्रेसीडेंट हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय बंसीलाल की बेटी और पूर्व IAS अधिकारी सरोज सिवाच थीं। इसके साथ ही पूर्व IAS अधिकारी सतवंती अहलावत, पूर्व IAS अधिकारी अशोक कुमार खेत्रपाल, पूर्व IAS अधिकारी डॉ. अवतार सिंह भी सोसायटी के पदों पर थे। उद्यमी ने आरोप लगाया कि पहले तो यह अधिकारी अपने पद पर रहे, जिसकी वजह से वह आवाज़ नहीं उठा सके। कुछ समय बाद जब यह अधिकारी अपने पद से रिटायर हो गए तो हिम्मत जुटाते हुए उद्यमी ने उनको नोटिस भेजा।

आरोप है कि पद से रिटायर होने के बावजूद पूर्व IAS अधिकारियों ने प्रशासनिक दबाव डलवाया। उद्यमी ने लीगल नोटिस भी भेजा पर कोई असर नहीं हुआ और वापस कर दिया गया। इसके बाद उन्होंने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से इस मामले की शिकायत की। DGP ने मामले की जाँच कमिश्नर पंचकूला को सौंपी है। उद्यमी ने इन सभी अधिकारियों के ख़िलाफ़ केस दर्ज करने की माँग की है।