BJP राष्ट्रीय अध्यक्ष J.P Nadda ने कांगड़ा के चम्बी मैदान में पंच परमेश्वर सम्मेलन में लिया भाग

Spread the News

धर्मशाला: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने रविवार को जिला कांगड़ा के चम्बी मैदान में पंच परमेश्वर जेपी नड्डा पंच परमेश्वर सम्मेलन में भाग लिया। सम्मलेन में भाग लेने आये जेपी नड्डा का मंत्री व विधायकों सहित अन्‍य नेताओं ने गर्मजोशी से स्‍वागत किया। एयरपोर्ट से बाहर निकलने के बाद चम्बी मैदान में आयोजित पंच परमेश्वर सम्मेलन तक नड्डा का स्वागत कर नेताओं ने शक्ति प्रदर्शन करने में कोई कसर नहीं रखी। पंच परमेश्वर सम्मेलन को संबोधित करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि हमारे ये कार्यकर्ता ही नहीं बल्कि चुने हुए प्रतिनिधि भी हैं। उन्होंने इस सम्मेलन में पहुंचे प्रतिनिधियों की भीड़ को मद्देनजर रखते हुये कहा कि कोई भी राजीनीतिक दल इतना बड़ा कार्यक्रम नहीं करवा सकता, जहां बाकी दल जितनी जनसभा नहीं कर पाते, उससे बड़ी हमारी बैठकें होती हैं ।

इसका कारण हमारे कार्यकर्ता हैं । नड्डा ने कहा कि ये सब साधना का परिणाम है जो पार्टी कार्यकर्ताओं ने कई साल तक की है। आज जो आप लोग यहां बैठे हैं उसके लिए आपने भी साधना की है। भाजपा भगवान रधुनाथ जी का रथ है, ऐसे ही चलता रहेगा। इस रथ को खींचने में आपने कितना सहयोग दिया ये सोचें । उन्होंने कहा कि परिणाम के बाद सभी लोग बताएं कि अपने यहां उन्होंने पार्टी को कितने वोट दिलाए। यह पहला काम किया। मैं एक ऑडिटर हूं सबके काम का हिसाब होगा । हर प्रतिनिधि का अपना एक हलका है । वहां आप खुद सब कुछ हैं । हिमाचल में 3 हजार 215 पंचायतें हैं, इसमें 2 हजार 463 में भाजपा के प्रधान हैं। ऐसे ही निकायों में हमारी स्थिति है। ये ऐसे ही नहीं हुआ, ये हमारी शक्ति है। इसी पूंजी को आगे बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि साल 1998 के चुनाव में वीरभद्र सिंह ने 40 लाख की घोषणा करते हुए टांडा मेडिकल कॉलेज की घोषणा की थी। तब मैं स्वास्थ्य मंत्री बना, तो मेडिकल कौंसिल ने इनकार कर दिया । उस समय मेरी और धूमल की चर्चा हुई उस समय हमारे प्रभारी नरेंद्र मोदी थे तो उन्होंने चर्चा के लिए बुलाया ।

उस समय मेडिकल काउंसिल ने कहा कि आपको अवसर देते हैं 2 माह में व्यवस्था बनाओ। तब मेहनत करके काउंसिल ने हमें अस्थायी स्वीकृति दी। ये सब हमने इसलिए किया क्योंकि हमने सत्ता सुख के लिए नहीं बल्कि कुछ करने की ललक थी इसलिये किया। नड्डा ने कहा कि जब मैं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री था तो टांडा को सुपर स्पेशिलिटी बनाया । ये चंबा मेडिकल कॉलेज ऐसे ही नहीं मिल गया। सिरमौर में आइआइएम दिया, अब कोई व्यक्ति चंडीगढ़ या जालंधर नही जाएगा बल्कि बिलासपुर जाएगा । मेडिकल डिवाइस पार्क, बल्क ड्रग पार्क भारत और हिमाचल को पूरी दुनिया में स्थापित कर देगा। राजनीति में भटकाने वाले बहुत मिल जाएंगे, तब बोलना हमें अपने लिए नहीं बल्कि पार्टी के लिए आना होता है। आप कभी भटक मत जाना। हम अपने लिए नहीं मकसद से आए हैं और उसे पूरा करना है। आप लोगों का जमीनी स्तर पर संपर्क है तो संपर्क बनाओ। अपने मोहल्ले और गांव में प्रबुद्ध लोगों से जुडो। स्वयं सहायता समूह और संस्थाओं से संपर्क करो और अपने साथ जोड़ो। केंद्र और सरकार की योजना में फर्क, हिम केयर और आयुष्मान भारत में क्या फर्क है।

कितने लाभार्थी हैं। उज्ज्वला योजना गृहणी योजना के कितने लाभार्थी हैं। ये सब आपका सिलेबस है। राजनीति में एजेंडा हमने सेट करना है। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज पंच परमेश्वर सम्मेलन में हिस्सा लिया। पंच परमेश्वर सम्मेलन में कांगड़ा संसदीय क्षेत्र के 17 हलकों के प्रधान, उपप्रधान, शहरी निकायों के पार्षद और जिला परिषद सदस्य भी शामिल हुए। इसके साथ ही पंच परमेश्वर सम्मेलन में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं प्रदेश चुनाव प्रभारी सौदान सिंह और कांगड़ा व चंबा के विधायक और मंत्री भी मौजूद रहे।

पंच परमेश्वर सम्मेलन में जेपी नड्डा के साथ पार्टी के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी, हिमाचल विधानसभा के अध्यक्ष विपिन सिंह परमार, वन मंत्री राकेश पठानिया, शाहपुर की विधायक व सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री सरवीन चौधरी आदि नेता मंच पर उपस्थित रहे। जेपी नड्डा ने कहा, “पीएम मोदी के नेतृत्व में हमारी सरकार ने चाय बागानों के लिए बहुत काम किया। राज्य में मोबाइल वैन-डिस्पेंसरी की त्वरित डिलीवरी द्वारा चाय-श्रमिकों की दुर्दशा का समाधान किया गया।” उन्होंने आगे कहा, “हमारे सभी विरोधी वंशवादी हैं। भाजपा की विचारधारा, नेतृत्व, ताकत और मूल्य देश के किसी अन्य राजनीतिक दल के पास नहीं हैं।”