Gujarat National Games: योग में हरियाणा की झोली में पहला स्वर्ण पदक

Spread the News

चंडीगढ़: गुजरात में चल रहे 36वें राष्ट्रीय खेलों में योगासना में हरियाणा ने पहला स्वर्ण पदक जीता है। गुरुग्राम के राहुल और ऋषभ ने अपनी प्रतिभा का उल्लेखनीय प्रदर्शन करके यह स्वर्ण पदक अपने नाम किया है। इसके अलावा, योगासना में आर्टिस्टिक सिंगल इवेंट में हरियाणा के प्रवीन पाठक ने कांस्य पदक जीता। हरियाणा के खिलाड़ी इन खेलों में लगातार उम्दा प्रदर्शन करके राज्य के नाम नई-नई उपलब्धियां जोड़ रहे हैं। तीरंदाजी और नेट बॉल खेल में हरियाणा चैंपियन बन चुका है। जुडो में तीनों पदक हरियाणा के नाम जूडो के खेल में प्रदेश के खिलाड़ियों ने तीनों पदक हासिल कर हरियाणा के नाम बड़ी उपलब्धी कायम की है। 73 किलोग्राम भार वर्ग में विशाल ने स्वर्ण पदक, जतिन ने रजत और विकास दलाल ने कांस्य पदक अपने नाम किए हैं।

गोल्फ में लड़कियों की टीम ने जीता रजत पदक गुजरात में चल रहे नेशनल गेम्स में हरियाणा की बेटियों ने अपने हुनर का जबरदस्त प्रदर्शन करके गोल्फ में भी हरियाणा को पदक दिलाने का काम किया। टीम इवेंट में हरियाणा की वानी कपूर और लावन्या जडोन ने रजत पदक जीतकर राज्य की झोली में एक ओर मेडल जोड़ दिया। गोल्फ टूर्नामेंट में पदक जीतने में बेटे भी पीछे नहीं रहे। लड़कों के इंडिविजुअल इवेंट में हरियाणा के अभिनव लोहान और सुन्हित बिशनोई ने कांस्य पदक जीता। हॉकी लड़कियों की टीम ने फाइनल में बनाई जगह रविवार को हुए हॉकी के सेमीफाइनल मैच में हरियाणा की बेटियों ने जीत दर्ज कर फाइनल में पहुंचने के साथ ही स्वर्ण पदक पर अपनी दावेदारी मजबूत की है। सेमीफाइनल मैच हरियाणा और झारखंड के बीच खेला गया।

दर्शक भी पूरे रोमांच के साथ खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन करते रहे। इस रोमांचक मैच में हरियाणा की बेटियों ने 5-2 से झारखंड को मात देकर स्वर्ण पदक के लिए अपनी दावेदारी पेश की। फाइनल मैच 11 अक्तूबर को खेला जाएगा। हॉकी लड़कियों की टीम अभी तक अपना कोई मैच नहीं हारी है। पूल मैचों में भी लगातार जीत दर्ज कर टीम यहां तक पहुंची है। उम्मीद है कि वे अपने विजय रथ को कायम रखते हुए फाइनल मुकाबला भी जीतकर स्वर्ण पदक पर कब्जा करेगी। हरियाणा के खाते में 31 स्वर्ण सहित कुल 94 पदक राज्य के खिलाड़ियों का नेशनल गेम्स में पदक जीतने का सिलसिला लगातार जारी है।

9 अक्तूबर शाम 6 बजे तक हरियाणा के खाते में 31 स्वर्ण पदक, 29 रजत और 34 कांस्य पदक हैं। अभी तक हरियाणा के खिलाड़ियों ने एक्युटिक्स में 1 रजत और 1 कांस्य पदक, तीरंदाजी में 5 स्वर्ण पदक, एथलेटिक्स में 3 स्वर्ण, 3 रजत और 5 कांस्य पदक, साइकिलिंग में 2 स्वर्ण और 3 रजत पदक, फेंसिंग में 1 स्वर्ण, 1 रजत और 2 कांस्य पदक, गोल्फ में 2 रजत और 3 कांस्य पदक, जूडो में 1 स्वर्ण, 3 रजत और 9 कांस्य पदक, कबड्डी में 2 कांस्य पदक, नेट बॉल में 2 स्वर्ण, रोइंग में 3 रजत और 1 कांस्य पदक, रग्बी में 1 स्वर्ण पदक, शूटिंग में 2 स्वर्ण, 3 रजत और 2 कांस्य पदक, सोμट टेनिस में 1 कांस्य पदक, टेबल टेनिस में 1 रजत पदक, टेनिस में 1 कांस्य पदक, वेटलिफ्टिंग में 1 स्वर्ण, 2 रजत और 2 कांस्य पदक, कुश्ती में 12 स्वर्ण, 7 रजत और 4 कांस्य पदक और योगासना में 1 स्वर्ण और 1 कांस्य पदक जीते हैं।